पाकिस्तान ने पीओके में ​छेड़ा जलयुद्ध, नीलम नदी का बहाव पंजाब की तरफ मोड़ा

पाकिस्तान ने पीओके में ​छेड़ा जलयुद्ध, नीलम नदी का बहाव पंजाब की तरफ मोड़ा

जलसंकट को लेकर लोगों ने किया प्रदर्शन,सरकार से मुआवजे की मांग की

मुजफ्फराबाद। पाकिस्तान ने अपने कब्जे वाले कश्मीर के लोगों के खिलाफ जलयुद्ध छेड़ दिया है। मीडिया में एक वीडियो छाया हुआ है। जिसमें दिखाई दे रहा है कि पाकिस्तान ने नीलम नदी के पानी को पंजाब की तरफ मोड़ दिया है,जो उसके अधिकार वाले कश्मीर के लोगों के लिए लाइफ लाइन है। इसकी वजह से यहां पर जल सकंट की स्थिति पैदा हो सकती है। लोग यहां पर विराध प्रदर्शन कर रहे हैं । मांग है कि सरकार उनकों इसका मुआवजा दे।

नीलम नदी के पानी से वंचित किया

पाकिस्तान एक विस्तृत योजना के जरिए मुजफ्फराबाद के लोगों को नीलम नदी के पानी से वंचित कर रहा है। नीलम नदी का पानी पंजाब प्रांत में मोड़ा जा रहा है। इससे मॉनसून के बाद भी नदी सूख सकती है। पाकिस्तान के इस कदम के खिलाफ पूरे मुजफ्फराबाद में प्रदर्शन हो रहे हैं। लोगों का कहना है कि पंजाब को पानी देकर पाकिस्तान पीओके के लोगों के खिलाफ जलयुद्ध छेड़ रहा है। मुजफ्फराबाद से गुजरने वाली नदी अब गंदे लाने के रूप में दिखाई देती है। मुजफ्फराबाद निवासी के अनुसार दुनिया के सामने पाकिस्तान की असलियत लाने के लिए आंदोलन शुरू करना अब जरूरी हो गया है। उनका कहना कि पाकिस्तान और पीओके के शासकों को समझना होगा कि पानी के बहाव को बदलने से नदी प्रदूषण बढ़ जाएगा।

अपनी तरफ राहत पैकेज देना चाहिए

एक अन्य निवासी का कहना है कि बीमारियों से बचाने के लिए सरकार को अपनी तरफ से राहत पैकेज देना चाहिए। नीलम और झेलम हाइड्रोपॉवर प्रोजेक्ट से उत्पन्न बिजली पाकिस्तान की जनता को राहत देगी,मगर यहां क्या पर क्या होगा। हम पाकिस्तान की सरकार से पूछना चाहते हैं कि इस प्रॉजेक्ट से वह जो 50 अरब रुपये कमाने वाली है उससे हमें क्या मिलेगा? हमें मुफ्त बिजली मुहैया कराने की बजाय वे हमसे चार गुना ज्यादा बिल वसूलते हैं। उन्होंने कहा कि यहां मुफ्त बिजली की मांग करते हैं।

Ad Block is Banned