अमरीका में स्थायी निवास और ग्रीन कार्ड में राहत, भारतीय पेशेवरों को पहुंचाएगा फायदा

Highlights.

- भारतीय पेशेवरों के लिए बड़ी राहत, अमरीकी सीनेट से फेयरनेस फॉर हाई-स्किल्ड इमिग्रेंट्स एक्ट पारित

- विभिन्न देशों के लिए रोजगार आधारित आव्रजक वीजा की अधिकतम संख्या के निर्धारण को समाप्त कर दिया

- भारतीय पेशेवरों को फायदा पहुंचाएगा जो वर्षो से ग्रीन कार्ड का इंतजार कर हैं

 

वाशिंगटन.

अमरीका में रहने वाले भारतीय पेशेवरों के लिए सीनेट ने फेयरनेस फॉर हाइ-स्किल्ड इमीग्रेंट्स एक्ट पारित कर राहत प्रदान किया है। सीनेट से सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित कर विभिन्न देशों के लिए रोजगार आधारित आव्रजक वीजा की अधिकतम संख्या के निर्धारण को समाप्त कर दिया है। इसको अब परिवार आधारित वीजा कर दिया है। यह अमरीका में रहने वाले ऐसे हजारों भारतीय पेशेवरों को फायदा पहुंचाएगा जो वर्षो से ग्रीन कार्ड का इंतजार कर हैं।

ये होगा फायदा

  • -अब उन भारतीयों का रास्ता आसान होगा, जो अमरीका में एच1बी वीजा लेकर पहुंचते हैं।
    - परिवार आधारित आव्रजन वीजा को सात प्रतिशत से बढ़ाकर 15 प्रतिशत कर दिया था।
    -यह प्रस्ताव रिपब्लिक सीनेटर माइक ली के द्वारा लाया गया था।
  • 2019 में भारतीय नागरिकों ने प्राप्त किए इतने ग्रीन कार्ड
    2019 में भारतीय नागरिकों को 9,008 श्रेणी1 (ईबी1), 2908 श्रेणी 2(ईबी2), और 5,083 श्रेणी 3 (ईबी3) ग्रीन कार्ड प्राप्त हुए। (ईबी3) रोजगार-आधारित ग्रीन कार्ड की विभिन्न श्रेणियां हैं। सीनेटर ली ने जुलाई में सीनेट को बताया था कि स्थायी निवास या ग्रीन कार्ड पाने के लिए किसी भारतीय नागरिक का बैकलॉग 195 वर्ष से अधिक है।
Ashutosh Pathak
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned