Israel में कोरोना के मामलों को लेकर लगाए लॉकडाउन का विरोध, आवास मंत्री लित्जमैन ने दिया इस्तीफा

Highlights

  • इजराइल (Israel) में करीब नौ कोरोड़ की आबादी है। यहां पर कोरोना के कारण 1,119 मौतें हो चुकी हैं।
  • मंत्री का कहना है कि लॉकडाउन (Lockdown) को इस दौरान लगाना यूहीदियों के साथ अन्याय है।

यरूशलम। इजराइल (Israel) की सरकार ने शनिवार को घोषणा की कि कोरोना वायरस मामलों को बढ़ता देख यहां पर तीन सप्ताह का राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन (Lockdown) लागू करेगी। यह आने वाले शुक्रवार से प्रभावी होगा। इस आदेश के बाद आवास मंत्री याकोव लित्जमैन ने रविवार को सरकार से इस्तीफा दे दिया। पूर्व स्वास्थ्य मंत्री रह चुके लित्ज़मैन पहले से कहते आ रहे हैं कि अगर लॉकडाउन आगे बढ़ाया जाता है तो वे सरकार से अलग हो जाएंगे। इजराइल में करीब नौ कोरोड़ की आबादी है। यहां पर कोरोना के कारण 1,119 मौतों सहित 155,604 कोविड-19 नए मामले दर्ज किए हैं।

प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू को एक पत्र में, लित्ज़मैन ने इस तथ्य को खारिज कर दिया कि लॉकडाउन लगाने से मामलों को रोका जा सकता है। उन्होंने कहा कि ये यहूदियों के लिए अन्य है। यूहीदी नर्ववर्ष पर अवकाश के दौरान लॉकडाउन लगाने से लोग कही नहीं जा सकेंगे। इस समय को यूहीदी अपनी अराधना में बिताते हैं।

लित्ज़मैन पहले कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। जब वह स्वास्थ्य मंत्री थे तो ऐसे समारोहों पर प्रतिबंध लगाया था जहां पर दस से अधिक लोग एकत्र हों। इस दौरान प्रार्थना सभा में 10 से अधिक पुरुषों के पकड़े जाने पर विरोध दर्ज कराया था। उन्होंने कहा था कि यदि लॉकडाउन की आवश्यकता थी, तो इसे एक महीने या कई सप्ताह पहले लगाया जाना चाहिए था।

प्रधान मंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने एक बयान में कहा कि कैबिनेट ने “तीन सप्ताह के लिए सख्त (लॉकडाउन) योजना पर सहमति बनाई है। एक विकल्प के साथ कि इसे बढ़ाया जाएगा”। उन्होंने कहा, “हमारा लक्ष्य कोरोना की वृद्धि को रोकना है, छूत को कम करना है,” जो एक दिन में चार हजार नए मामलों की सीमा को पार कर गया है।

लॉकडाउन दिशानिर्देशों के तहत, अभी भी अंतिम रूप दिया जाना है, घर के समारोहों में 10 लोगों तक सीमित किया जाएगा और वहीं बाहरी सभाओं को 20 तक सीमित किया जाएगा। इसका अर्थ है कि सभाओं में प्रार्थनाओं को गंभीर रूप से प्रभावित किया जाएगा।

रेस्तरां को साइट पर भोजन करने के लिए बंद किया जाता है और आंदोलन किसी के घर से 500 मीटर (1,650 फीट) तक सीमित होगा। नेतन्याहू ने कहा, “मुझे पता है कि इन उपायों से हम सभी को भारी कीमत मिलेगी।”

वहीं आवास मंत्री याकोव लित्ज़मैन ने कहा “यह सैंकड़ों नागरिकों के लिए एक अन्याय और अवहेलना है, अल्ट्रा-रूढ़िवादी, धार्मिक और पारंपरिक,” जो आराधनालय में प्रार्थना करना चाहते हैं और परिवार का भोजन करेंगे।

गौरतलब है कि कोरोना वायरस के बढ़ते मामले को लेकर नेतन्याहू सरकार की कड़ी आलोचना हो रही है। नेतन्याहू के खिलाफ और सरकार द्वारा महामारी से निपटने के मामले सामने आने के बाद विरोध प्रदर्शन छिड़ गए हैं।

coronavirus
Show More
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned