Russia पर लगे आरोप, तालिबानी आतंकियों की मदद कर अमरीकी सैनिकों की हत्या करा रहा

Highlights

  • अमरीका की खुफिया एजेंसी (America Secret agency) ने लगाए संगीन आरोप, रूस पश्चिम के देशों को अस्थिर करना चाहता है।
  • अमरीकी सैनिकों पर हमले कि लिए तालिबानी आतंकियों को पुरस्कार की पेशकश की गई थी।

नई दिल्ली। अमरीका की खुफिया एजेंसी (America Secret agency) ने रूस पर संगीन आरोप लगाए हैं। उसका कहना है कि रूस की सैन्य खुफिया इकाई ने तालिबान से जुड़े आतंकवादियों को अफगानिस्तान में तैनात अमरीकी सेना के जवानों को मारने पर इनाम की पेशकश की थी। रूसी सैन्य अधिकारियों ने तालिबान से संबंध रखने वाले आतंकियों को अमरीकी सेना पर हमला करवा कर उसे कमजोर करने की कोशिश की है।

संयुक्त राज्य अमरीका ने महीने भर पहले आरोप लगाया था कि रूस पश्चिम के देशों को अस्थिर करना चाहता है। इस कारण वहां पर जो सेनाएं शांति कायम करने के लिए तैनात की गई हैं, उन पर हमले कराकर अशांति को बढ़ावा दे रहा है। इससे पहले भी बीते साल इस तरह से अमरीकी सैनिकों पर हमले कि लिए तालिबानी आतंकियों को पुरस्कार की पेशकश की गई थी।

अधिकारियों ने कहा कि ये खुफिया जानकारी अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) को दी गई। उसके बाद वाइट हाउस (White House) की राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद ने मार्च के अंत में एक बैठक में इस समस्या पर चर्चा भी की थी। अधिकारियों ने इन चीजों का ध्यान रखते हुए संभावित विकल्पों की एक लिस्ट तैयार की थी।

इस तरह की जानकारी सामने आने के बाद अमरीका का कहना है कि यदि तालिबान के साथ ऐसे किसी हमले से उनके सैनिकों की मौतें हुईं हैं तो रूस के खिलाफ युद्ध का एक बड़ा विस्तार होगा। अमरीका का कहना कि रूस को इसका माकूल जवाब दिया जाएगा। अशांति फैलाने के लिए साइबर हमले किए जाएंगे, विरोधियों को अस्थिर करने की रणनीति अपनाई जाएगी।

Donald Trump
Show More
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned