Coronavirus से जुड़ी इन जानकारियों को न करें कभी Google Search, बढ़ जाएगा आपके लिए खतरा


Highlights
-Google search में कोरोना वायरस इस समय पहले नम्बर पर है
-पूरी दुनिया इसके बारे में जानकारी जुटाने में लगी है
-हर कोई Coronavirus के बारे में अधिक से अधिक जानकारी लेना चाहता है

 

Ruchi Sharma

25 Mar 2020, 01:26 PM IST

नई दिल्ली. कोरोना वायरस का कहर लगातार जारी है। देश में 500 से अधिक लोग कोरोना वायरस से संक्रमित है। जिनमें नौ लोगों की मौत हो चुकी है। इसके आंकड़ा लगातार बढ़ता ही जा रहा है। इस वायरस का खौफ इतना ज्यादा है कि जैसे-जैसे ये फैल रहा है लोग इससे जुड़ी जानकारी Google में सर्ज कर रहे हैं। Google search में कोरोना वायरस इस समय पहले नम्बर पर है। पूरी दुनिया इसके बारे में जानकारी जुटाने में लगी है। बच्चे हो बुढ़े हो या महिलाएं हर कोई coronavirus के बारे में अधिक से अधिक जानकारी लेना चाहता है। कोरोना वायरस को लेकर कई गलत जानकारियां भी सामने आ रही है। इसको देखते हुए IT मंत्रालय ने सोशल मीडिया कंपनियों को इस वायरस से जुड़ी सभी गलत जानकारियों को हटाने का निर्देश दिया है। कोरोना वायरस को लेकर पुलिस की सख्त नजर है खास तौर पर फेसबुक और वाट्सएप पर। दरअसल कोरोना वायरस को लेकर कुछ लोग सोशल मीडिया पर डर फैला रहे हैं और लगातार गलत जानकारी शेयर भी कर रहे हैं। इन लोगों से निपटने के लिए पुलिस व आईटी सेल दोनों तैयार है।

ध्यान रहे कोरोना वायरस जैसे खतरनाक बीमारी से जुड़ी एक भी गलत जानकारी आपके साथ-साथ पूरे देश के लिए समस्या पैदा कर सकती है। आइए आपको बताते हैं एेसी है जानकारी के बारे में जो आप कभी गलती से भी search न करें।

अन-इंस्टॉल कर दें ये app

Coronavirus से संबंधित किसी भी ऐप को फोन में सर्च और इंस्टॉल न करें। याद रखें कि इस बीमारी से जुड़ी कोई भी आधिकारिक ऐप फिलहाल डेवलप नहीं की गई है। अगर, आपके फोन में इससे जुड़ी कोई भी ऐप मौजूद है तो उसे फौरन अन-इंस्टॉल कर दें, ताकि आपको किसी भी तरह की गलत जानकारी न मिल सके।

न जाएं किसी भी वेबसाइड में

कोरोना वायरस से संबंधित कोई भी आधिकारिक वेबसाइट फिलहाल अभी नहीं बनी है। ऐसे में आप इस वायरस से संबंधित किसी भी वेबसाइट पर न जाएं। आप इस खतरनाक वायरस से संबंधित जानकारी के लिए WHO (वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन) के आधिकारिक वेबसाइट को ही रेफर करें।

जारी हेल्पलाइन नंबर पर करें फोन

इस वायरस को डिटेक्ट करना आसान नहीं है। इसके लिए टेस्टिंग किट केवल सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त अस्पताल में ही उपलब्ध है। अगर, आपको लगता है तो आप इस वायरस से संक्रमित हैं तो फौरन स्वास्थ मंत्रालय द्वारा जारी हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करके संपर्क करें।

नेट पर खुद से न ढूंढे इलाज

कोरोना वायरस ही नहीं किसी भी बीमारी के लिए कोई भी उपचार और दवाई वेबसाइट के जरिए सर्च नहीं करनी चाहिए। आप अगर बीमार हैं तो आप नजदीकी अस्पताल या डॉक्टर से संपर्क करें। खुद से कोई इलाज न करें या नेट पर इसका उपाए न ढूंढे।

न सर्च करें ये वीडियो

इस बीमारी से संबंधित कोई भी वीडियो न देखें और न ही सर्च करें। इसकी एक गलत जानकारी आपको नुकसान पहुंचा सकती है। इसके उपचार के लिए सरकार द्वारा जारी किए गए गाइडलाइन्स को फॉलो करें। अगर जरूरी नहीं हो तो घरों से बाहर न निकलें और लोगों से दूरी बनाकर रखें।

Ruchi Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned