सरकार का TikTok और Facebook को आदेश, कहा- फर्जी खबर करें डिलीट

  • सरकार का Social Media को फर्जी खबर डिलीट करने का आदेश
  • फर्जी खबरों की वजह से लोगों तक नहीं पहुंच रही है कोरोनावायरस से जुड़ी सही जानकारी

By: Pratima Tripathi

Published: 08 Apr 2020, 12:38 PM IST

नई दिल्ली। भारत सरकार के इलेक्ट्रॉनिक और सूचना प्रौद्योगिकि मंत्रालय ने सोशल मीडिया कंपनियों को कोरोनावायरस से जुड़ी गलत जानकारी फैलाने वाले यूजर्स के खिलाप कार्रवाई करते हुए उनका अकाउंट हटाने का आदेश दिया है और उनका ब्योरा रखने के लिए कहा है। सरकार का कहना है कि कोरोनावायरस से जुड़ी सही जानकारी लोगों तक नहीं पहुंच रही है और इससे कोविड-19 के खिलाफ अभियान कमजोर हो रही है।

सरकार का कहना है कि सोशल मीडिया कंपनियों को जरूरत पड़ने पर यूजर्स का ब्योरा पुलिस और जांच एजेंसियों के साथ भी शेयर करना होगा, जिससे की फर्जी खबरों पर लगाम लगाया जा सके। इलेक्ट्रॉनिक और सूचना प्रौद्योगिकि मंत्रालय ने कहा है कि फेसबुक, टिकटॉक समेत अलग-अलग सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर गलत जानकारी ऑडियो और वीडियो मैसेज की जरिए दी जा रही है, जिससे बाकी लोग गुमराह हो रहे हैं।

24 कैरेट गोल्ड, 3 रूबी और 3 नीलम से बना है Galaxy S20 Ultra, कीमत 30.2 लाख रुपये

इस पूरे मामले पर आईएएमएआई का कहना है कि सरकार को इसके लिए कानूनी तरीके से आदेश जारी करने चाहिए। यही वजह है गलत मैसेज फॉरवर्ड करने वालों पर लगाम लगाने के लिए व्हाट्सऐप ने मैसेज फॉरवर्डिंग फीचर में बड़ा बदलाव किया है। इसके तहत कंपनी ने मैसेज फॉरवर्डिंग को सीमित कर दिया है। अब व्हाट्सएप यूजर्स किसी मैसेज को एक बार में सिर्फ एक ही यूजर को फॉरवर्ड कर सकेंगे। इससे पहले किसी मैसेज को एक बार में पांच लोगों को फॉरवर्ड करने की सुविधा थी।

coronavirus
Show More
Pratima Tripathi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned