Google Pay से पेमेंट करने पर हुई 96,000 रुपये की धोखाधड़ी, जानें कितनी सुरक्षित है ये सर्विस

  • बिजली के बिल का भुगतान करने के दौरान हुई धोखाधड़ी
  • फर्जी कस्टमर केयर नंबर से है बचने की जरूरत
  • भूलकर भी ना डाउनलोड करें AnyDesk ऐप

Vishal Upadhayay

September, 2003:18 PM

नई दिल्ली: ऑनलाइन पेमेंट सर्विस के आने के बाद पैसे के लेन-देन में काफी सहुलियत हो गई है। इस सर्विस के जरिए हम किसी को भी और कहीं से कहीं पर भी पैसा ट्रांसफर कर सकते हैं। लेकिन जहां इसके कई फायदे हैं वहीं कुछ नुकसान भी हैं। बीते कुछ सालों में ऑनलाइन पेमेंट ऐप का इस्तेमाल बढ़ने के साथ ही धोखाधड़ी की घटनाएं लगातार बढ़ रही हैं। हाल ही में मुंबई के रहने वाले एक यूजर को Google Pay के जरिए पेमेंट करने के दौरन 96 हजार रुपये के धोखाधड़ी का सामना करना पड़ा।

Google Pay से लिंक था बैंक अकाउंट

बता दें, Google Pay के जरिए बिजली के बिल का भुगतान करने के दौरान यूजर के अकाउंट से 96 हजार रुपये की चपत लग गई। पेमेंट करने के दौरान यूजर के ऐप पर ट्रांजैक्शन फेल का मैसेज आया जिसके बाद उसने सर्च इंजन Google.com पर गूगल पे कस्टमर केयर नंबर सर्च करने लगा। यूजर के द्वारा सर्च करने पर फर्जी नंबर मिला जिसपर कॉल करने पर जालसाजो ने उससे ट्रांजैक्शन फेल होने की दिक्कत को आम बात बताया और यूजर को अपने द्वारा भेजे गए एक टेक्स्ट मेसेज लिंक पर क्लिक करने को कहा। इसके बाद यूजर के द्वारा फर्जी लिंक पर क्लिक करने के बाद उसके अकाउंट से 96 हजार रुपये किसी अनजान व्यक्ति के खाते में ट्रांसफर हो गए। अब यहां ध्यान देने वाली बात यह है कि पैसे उसी बैंक अकाउंट से ट्रांसफर हुए जो गूगल पे से लिंक था।

इन बातों पर ध्यान देने की है जरूरत

याद हो पिछले साल AnyDesk ऐप को लेकर RBI ने इसे ना इस्तेमाल करने का सुझाव दिया था। इन फर्जी कॉल के जरिए जालसाजों की कोशिश होती है कि वह यूजर के फोन में इस ऐप को डाउनलोड करा दें जिसके बाद उन्हें आपके फोन का रिमोट एक्सिस मिल जाए। ऐसे में आपको इस तरह के फर्जी ऐप से बचने की जरूरत है। जब भी आपके पास कोई बैंक से जुड़ी कोई कॉल आती है तो आप उस कॉल को ध्यान से सुने और थोड़ा सा भी शक होने पर अपनी बैंक डीटेल ना दें। क्योंकि बैंक खुद ही अपने खाता धारक को अकाउंट की जानकारी देने से मना करता है।

Vishal Upadhayay
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned