जेल में तैनात डॉक्‍टर का खुलासा, डिप्‍टी जेलर की शय पर जेल में बेची जा रही हैं प्रतिबंधित दवा

जेल में तैनात डॉक्‍टर का खुलासा, डिप्‍टी जेलर की शय पर जेल में बेची जा रही हैं प्रतिबंधित दवा
Moradabad

डॉक्‍टर ने कहा- रोक लगाने की बात कही तो दी जान से मारने की धमकी

मुरादाबाद. जनपद की जिला कारागार में एक बार फिर अव्‍यवस्‍थाओं और अपराध को लेकर सवाल उठ रहे हैं। इस बार ये सवाल खुद सरकारी अधिकारी ने जेल अधिकारी पर लगाया है और इसके खिलाफ सिविल लाइन थाने में मामला भी दर्ज करवा दिया गया है। जिसके बाद जेल प्रशासन में हड़कंप मचा हुआ है। फिलहाल पूरे मामले की जांच की बात कही जा रही है। दरअसल जिला जेल अस्पताल में तैनात डॉक्टर नीरज शर्मा ने डिप्टी जेलर अंजनी कुमार गुप्ता पर जेल में प्रतिबंधित दवाएं बेचने का आरोप लगाया है और मना करने पर धमकाने और जान से मारने की शिकायत की है।

शुक्रवार को पुलिस तहरीर में डॉ. नीरज शर्मा ने डिप्टी जेलर अंजनी कुमार गुप्ता पर आरोप लगाया है कि वे कैंटीन के माध्यम से प्रतिबंधित दवाएं बिकवा रहे हैं और जब मैंने इसे रोकने के लिए कहा तो मुझे धमकाया गया। डॉ. नीरज के मुताबिक खुद डिप्टी जेलर ने अस्पताल में आकर कहा कि हद में रहकर नौकरी करो वरना अंजाम अच्छा नहीं होगा। डॉ. नीरज के मुताबिक डिप्टी जेलर के पास कैंटीन का भी चार्ज है, जिसका वे नाजायज फायदा उठा रहे हैं।

वहीं वरिष्ठ जेल प्रबंधक बीआर वर्मा ने डॉक्टर और डिप्टी जेलर के बीच झगड़े की बात स्वीकारी और कहा कि जांच की जा रही है। उसके बाद ही कोई कार्यवाही की जायेगी, जबकि पुलिस ने बताया की डॉक्टर नीरज की तहरीर के आधार पहले जांच के बाद कार्यवाही की जाएगी।

यहां बता दें कि जेल प्रशासन पर पहले भी कई संगीन आरोप लग चुके हैं, लेकिन इस बार खुद जेल में मौजूद डॉक्टर ने गंभीर आरोप लगाकर जेल प्रशासन पर सवाल खड़े कर दिए हैं। अब देखना ये होगा की स्थानीय प्रशासन इस मामले में क्या कार्यवाही करता है।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned