लोकसभा चुनावों में भाजपा से निपटने के लिए कांग्रेस कर रही अब इस रणनीति पर काम

लोकसभा चुनावों में भाजपा से निपटने के लिए कांग्रेस कर रही अब इस रणनीति पर काम

Jai Prakash | Publish: Sep, 16 2018 08:28:43 AM (IST) | Updated: Sep, 16 2018 08:28:44 AM (IST) Moradabad, Uttar Pradesh, India

मुरादाबाद में कार्यकर्ता सम्मेलन आयोजित किया जाएगा। जिसमें प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर के साथ ही पार्टी महासचिव गुलाम नबी आजाद भी शिरकत करेंगे।

मुरादाबाद: लोकसभा चुनाव 2019 को लेकर देश की बड़ी विपक्षी पार्टी कांग्रेस ने अपनी जमीनी तैयारियां शुरू कर दी है। जिसके तहत वेस्ट यूपी के मुस्लिम बाहुल्य इलाके में वो अपनी मजबूत पैठ बनाने के लिए हर जुगत आजमा रही है। इसी तर्ज पर सोमवार को मुरादाबाद में कार्यकर्ता सम्मेलन आयोजित किया जाएगा। जिसमें प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर के साथ ही पार्टी महासचिव गुलाम नबी आजाद भी शिरकत करेंगे। शनिवार देर शाम पहुंचे पार्टी नेता नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने कार्यक्रम को लेकर समीक्षा बैठक की।

मेरठ में बसपा नेता की हत्या के पीछे वजह बनी थी 'पतंग', प्रोफेशनल शूटर थे वारदात में शामिल

कार्यकर्त्ता सम्मेलन यहां होगा

यहां बता दें कि कम्पनी बाग़ स्थित पंचायत भवन में कांग्रेस का कार्यकर्त्ता सम्मलेन आयोजित किया जायेगा। जिसमें कार्यकर्ताओं से सीधे रूबरू गुलाम नबी आजाद और प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर होंगे। कार्यकर्ताओ की बात सीधे राष्ट्रिय अध्यक्ष राहुल गांधी तक जाएगी। कार्यक्रम की तैयारियों और समीक्षा को पहुंचे देर शाम कांग्रेस नेता मीम अफजल और नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने कहा कि किसी भी नेता का भाषण नहीं होगा और न ही कोई नेता मंच पर नजर आयेगा। सिर्फ कार्यकर्ताओं से बात होगी।

बड़ी खबर: मोदी सरकार के इस आयोग की सदस्य पहुंची बागपत और कर दिया इस योजना का ऐलान, लाभार्थियों को मिलेंगे 40 हजार रुपये

सिर्फ कार्यकर्ताओं से होगी बात

कांग्रेस के कार्यकर्त्ता सम्मलेन में जिला व महानगर कमेटी के साथ साथ सभी बूथ स्तर कार्यकर्ताओं को आमंत्रित किया गया है। जो इन नेताओं से सीधी अपनी बात रख सकेंगे। किसी भी नेता को मंच पर भी स्थान नहीं मिलेगा वे कार्यकर्ताओं के साथ ही बैठेंगे।

बड़ी खबर: लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा ने बनाई नई टीम, इन्हें सौंपी बड़ी जिम्मेदारी, यहां देखें पूरी लिस्ट

राहुल गांधी को जायेगा रिकॉर्ड

इस कार्यक्रम का रिकॉर्ड राहुल गांधी को दिया जायेगा। माना जा रहा है कि अलग अलग जगह के कार्यकर्ताओं से बात कर पार्टी 2019 की तैयारी में जुट जाएगी। कांग्रेस के लिए यहां से 2009 में क्रिकेटर अज़हरुद्दीन लोकसभा सीट निकाल चुके हैं। फिर अल्पसंख्यक वोटों का गणित भी कांग्रेस के लिए मुफीद लग रहा है। महागठबंधन होने पर भी ये सीट कांग्रेस के खाते में ही बताई जा रही है। इसलिए अभी किसी कांग्रेसी ने स्थानीय स्तर से दावेदारी नहीं की है। जबकि मीम अफजल की सक्रियता जरुर बढ़ गयी और उनको इस सीट पर लड़ने की इच्छा जताई जा रही है।

 

 

Ad Block is Banned