राहुल गांधी ने किया सीटों का बंटवारा, 38 नहीं ज्योतिरादित्य सिंधिया अब 58 लोकसभा सीटें देखेंगे, देखें लिस्ट

राहुल गांधी ने किया सीटों का बंटवारा, 38 नहीं ज्योतिरादित्य सिंधिया अब 58 लोकसभा सीटें देखेंगे, देखें लिस्ट

Jai Prakash | Publish: Feb, 14 2019 02:40:15 PM (IST) | Updated: Feb, 14 2019 02:40:16 PM (IST) Moradabad, Moradabad, Uttar Pradesh, India

राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने दोनों के कार्यक्षेत्रों में बड़ा बदलाव कर दिया है।

मुरादाबाद: लोकसभा चुनावों की तैयारियों में जुटी कांग्रेस ने अब यूपी में प्रियंका गांधी और ज्योतिरादित्य सिंधिया के लिए सीटों का भी बंटवारा कर दिया है। अभी तक प्रियंका गांधी को 42 सीटों और सिंधिया को 38 सीटों का प्रभारी बताया जा रहा था। लेकिन राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने दोनों के कार्यक्षेत्रों में बड़ा बदलाव कर दिया है। जिसमें पूर्व की तरह ईस्ट और वेस्ट यूपी को तो बांटा ही गया है। जबकि ज्योतिरादित्य सिंधिया अब वेस्ट की 38 सीटें नहीं बल्कि 58 लोकसभा सीटों का काम देखेंगे।


moradabad

इस दिन जारी हुई लिस्ट
ये जानकारी पार्टी के महासचिव के सी वेणुगोपाल ने यूपी कांग्रेस के ट्विटर हैंडल पर जारी की है। 12 फरवरी को इसे कांग्रेस के राष्ट्रिय अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा जारी करने की बात विज्ञप्ति में कही गयी है। इसके मुताबिक राहुल गांधी ने यूपी को दो जोन ईस्ट और वेस्ट में बांट दिया है।

moradabad

बढ़ा दिया भार
पिछले राहुल गांधी ने प्रियंका गांधी को पार्टी में महासचिव बनाकर यूपी ईस्ट का प्रभारी बनाया था और ज्योतिरादित्य सिंधिया को वेस्ट यूपी का। लेकिन अब ईस्ट और वेस्ट के साथ ही दोनों के लिए सीटों का बंटवारा कर दिया है। वेस्ट जोन में कुछ पूर्वी उत्तरप्रदेश की भी सीटें रखी गयीं हैं। यानि प्रियंका का काम कुछ कम किया गया है। पार्टी शायद उन्हें आगामी लोकसभा चुनाव में स्टार प्रचारक बनाकर यूपी से बाहर भी उतारे। जबकि सिंधिया का काम बढ़ाकर उन पर और ज्यादा भरोसा राहुल गांधी ने जताया है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned