दिमनी विधानसभा सीट: यहां भाजपा का वर्चश्व रहा लेकिन दो चुनावों में हुए बड़े उलटफेर

दिमनी विधानसभा सीट: यहां भाजपा का वर्चश्व रहा लेकिन दो चुनावों में हुए बड़े उलटफेर

By: Hitendra Sharma

Updated: 30 Sep 2020, 10:21 AM IST

मुरैना. मध्यप्रदेश की जिन 28 विधानसभा सीटों पर चुनाव होने हैं उनमें से एक है मुरैना जिले की दिमनी विधानसबा सीट। दिमनी विधानसभा सीट को पाने के लिए इस बार बीजेपी, बसपा और कांग्रेस के बीच कड़ी टक्कर है। वैसे तो यह बीजेपी की परंपरागत सीट मानी जाती है, लेकिन पिछली दो चुनावों से यह सीट भाजपा के हाथों से निकल गई है। 1998 से लगातार यहां बीजेपी जीत रही थी, लेकिन 2013 के चुनाव में बसपा ने बड़ा उलट फेर कर दिया और फिर 2018 में यह सीट कांग्रेस के खाते में चली गई।

इस सीट पर केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर का भी अच्छा ख़ासा प्रभाव है। यहां सबसे ज्यादा तोमर समुदाय के लोग है, जो चुनाव में निर्णायक भूमिका अदा करते हैं। इसके अलावा अनुसूचित जाति व ब्राह्मण मतदाता के वोट भी बड़ा फेरबदल कर
सकते हैं।

कब कौन बना विधायक

1977 मुंशीलाल जनता पार्टी
1980 मुंशीलाल भारतीय जनता पार्टी
1985 मुंशीलाल भारतीय जनता पार्टी
1990 मुंशीलाल भारतीय जनता पार्टी
1993 रमेश कोरी भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
1998 मुंशीलाल भारतीय जनता पार्टी
2003 संध्या राय भारतीय जनता पार्टी
2008 शिव मंगल सिंह तोमर भारतीय जनता पार्टी
2013 बलवीर सिंह दंडोतिया बहुजन समाज पार्टी
2018 गिर्राज दंडोतिया भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस

जातीय समीकरण
दिमनी में तोमर (राजपूत), अनुसूचित जाति व ब्राह्मण मतदाता निर्णायक स्थिति में हैं।

कितने मतदाता
कुल मतदाता : 204591
पुरुष मतदाता : 113709
महिला मतदाता : 90882

2020 के उम्मीदवार
भाजपा से संभावित उम्मीदवार गिर्राज दंडोतिया
कांग्रेस ने यहां से रवीन्द्र तोमर को उम्मीदवार बनाया है

by poll election in madhya pradesh 2020
Show More
Hitendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned