scriptCorona gave vaccine companies a booster of profits 10101 | कोरोना ने टीका कंपनियों को लगाई मुनाफे की बूस्टर | Patrika News

कोरोना ने टीका कंपनियों को लगाई मुनाफे की बूस्टर

फायदे की फॉर्मा 01
75 हजार रुपए प्रति सेकेंड कमा रहीं फाइजर, बायोएनटेक और मॉडर्ना
- 3750 करोड़ का घाटा खत्म कर माडर्ना ने एक साल में कमाए 700 करोड़ डॉलर
- 300 करोड़ के घाटा पूरा कर बायोएनटेक 61 हजार करोड़ के मुनाफे में आई
- 124 फीसदी मुनाफे के साथ फाइजर ने एक साल में कमाए 9 हजार करोड़ डॉलर

मुंबई

Published: January 23, 2022 08:59:46 pm

अरुण कुमार
कोरोना जहां पूरी दुनिया के लिए संक ट बनकर आया वहीं, फार्मा और वैक्सीन कंपनियों को ऐसी मनाफे की बूस्टर डोज लगाई कि वे मालामाल हो गईं। कोविड वैक्सीन बनाने वालीं तीन कंपनियां- फाइजर (pfizer), बायोनटेक और मॉडर्ना (moderna) हर सेकेंड 1,000 अमरीकी डॉलर यानी 75 हजार रुपए कमा रही हैं। हर रोज ये कंपनियां 9.35 करोड़ डॉलर (लगभग सात अरब रुपए) की कमाई कर रही हैं। कोरोना से पहले मॉडर्ना 3750 करोड़ रुपए के घाटे में चल रही थी जिसने 2021 में घाटा खत्म कर 700 करोड़ डॉलर का मुनाफा कमाया। इसी तरह बायोएनटेक जो 300 करोड़ के घाटे में थी एक साल बाद 61 हजार करोड़ के मुनाफे में आ गई। वहीं, फाइजर का मुनाफा 2020 में 800 करोड़ डॉलर था जो 2021 में 9 हजार करोड़ डॉलर हो गया। यानि मुनाफे में 124 प्रतिशत का उछाल होश उड़ाने वाला है। दुनिया में दो-तिहाई वैक्सीन इन्हीं चार कंपनियों- माडर्ना, फाइजर, बायोएनटेक और जानसन एंड जानसन ने बेची हैं। ओमिक्रॉन के नाम पर मार्डना और फाइजर ने करीब दस दिन में बूस्टर डोज से 70 हजार करोड़ कमाए। एस्ट्राजेनेका और जॉनसन एंड जॉनसन भी अब मुनाफे में वैक्सीन बेचने की योजना बना रही हैं।
लाइव मिंट की रिपोर्ट के अनुसार 2020-21 में सीरम इंस्टीट्यूट को 7499 रुपए के कारोबार पर 3,890 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ। चालू वित्तीय साल की पहली छमाही (सितंबर, 2021) में कंपनी की परिचालन आय उछाल के साथ 13,288 करोड़ रुपए तक पहुंच गई।
टॉप 20 कंपनियों में 18 फार्मा की
देश में 5000 करोड़ रुपए से अधिक की बिक्री कर मुनाफा कमाने वाली शीर्ष 20 कंपनियों में 18 कंपनियां फार्मा सेक्टर की हैं। सीरम के बाद मैकलेओड्स फार्मास्टूटिकल्स है, जिसका शुद्ध लाभ 28 फीसदी है। भारत की वैक्सीन कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट दुनिया की सबसे बड़ी टीका निर्माता कंपनी बन गई है, लेकिन फायदे में पीछे है।
124 गुना मुनाफे की तैयारी में कंपनियां
गार्जियन की रिपोर्ट के अनुसार फाइजर का एक वैक्सीन में एक डॉलर खर्च होता है जबकि एक डोज 30 डॉलर में बेचती है। माडर्ना भी तीस गुने से ज्यादा में अपना टीका बेचती है। ऑक्सफेम के अनुसार दोनों कंपनियां 5 गुने से ज्यादा के मुनाफे पर अपनी वैक्सीन बेच रही हैं। अब दोनों कंपनियां टीके को 124 डॉलर में बेचने जा रही है।
गरीब देशों को वैक्सीन नहीं
पीपल्स वैक्सीन अलायंस के अनुसार तीनों कंपनियां अमीर देशों को वैक्सीन बेचकर अरबों कमा रही हैं, लेकिन गरीब देशों को वैक्सीन देने में आफत आ रही है। गरीब देशों के महज दो फीसदी लोगों को ही पूरी खुराक मिली है। जबकि इन कंपनियों को अरबों डॉलर की फंडिंग, वैज्ञानिक और सरकारी लैब तक उपलब्ध कराई गई हैं।
भारत के विरोध में अरबों की लॉबिंग
भारत और दक्षिण अफ्रीका समेत 100 देशों ने प्रस्ताव में कहा कि कोविड वैक्सीन को पेटेंट नियमों से मुक्त किया जाए ताकि सभी देश अपने हिसाब से वैक्सीन का उत्पादन कर सकें। जर्मनी, यूके, अमरीका समेत कई देशों की फार्मा कंपनियों ने नेताओं की लॉबिंग में 3 हजार 700 करोड़ रुपए से खर्च कर प्रस्ताव को मंजूर नहीं होने दिया।
मजबूर करने वाली शर्तों का लबादा
कंपनियों ने तमाम देशों से टीका के बदले ऐसी श्र्तें रखी जो किसी भी देश को नागवार गुजरी मगर कोई विकल्प नहीं था। पहली शर्त थी कि टीके से किसी की जान जाती है तो सरकार जिम्मेदार होगी और हर्जाना भी वही देगी। सरकारें टीका कंपनियों पर कोई कानूनी कार्यवाही नहीं कर पाएंगी। मॉडर्ना ने भारत से ऐसी ही शर्तें रखी थीं।

कोरोना ने टीका कंपनियों को लगाई मुनाफे की बूस्टर
कोरोना ने टीका कंपनियों को लगाई मुनाफे की बूस्टर

कोरोना वैक्सीन के बाद कंपनियों का मुनाफा
कंपनी 2020 2021
माडर्ना -3750 करोड़ +700 करोड़ डॉलर
फाइजर +८०० करोड़ + 9000 करोड़ डॉलर
जानसन +97000 करोड़ +120 हजार करोड़
बॉयोएनटेक - 300 करोड़ + ६१ हजार करोड़
सीरम +2251 करोड़ + 3,890 करोड़
स्रोत : पीवीए, लॉइव मिंट

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

किसी भी महीने की इन तीन तारीखों में जन्मे बच्चे होते हैं बेहद शार्प माइंड, लाइफ में करते हैं बड़ा कामपैदाइशी भाग्यशाली माने जाते हैं इन 3 राशियों के बच्चे, पिता की बदल देते हैं तकदीरइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथ7 दिनों तक मीन राशि में साथ रहेंगे मंगल-शुक्र, इन राशियों के लोगों पर जमकर बरसेगी मां लक्ष्मी की कृपादो माह में शुरू होने वाला है जयपुर में एक और टर्मिनल रेलवे स्टेशन, कई ट्रेनें वहीं से होंगी शुरूपटवारी, गिरदावर और तहसीलदार कान खोलकर सुनले बदमाशी करोगे तो सस्पेंड करके यही टांग कर जाएंगेआम आदमी को राहत, अब सिर्फ कमर्शियल वाहनों को ही देना पड़ेगा टोल15 जून तक इन 3 राशि वालों के लिए बना रहेगा 'राज योग', सूर्य सी चमकेगी किस्मत!

बड़ी खबरें

31 साल बाद जेल से छूटेगा राजीव गांधी का हत्यारा, सुप्रीम कोर्ट ने दिया आदेशकान्स फिल्म फेस्टिवल में राजस्थान का जलवा, सीएम गहलोत ने जताई खुशीगुजरातः चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका, हार्दिक पटेल ने दिया इस्तीफा, BJP में शामिल होने की चर्चाआतंकियों के निशाने पर RSS मुख्यालय, रेकी करने वाले जैश ए मोहम्मद के कश्मीरी आतंकी को ATS ने किया गिरफ्तारआज चंडीगढ़ की ओर कूच करेंगे किसान, बॉर्डर पर ही बिताई रात, CM भगवंत बोले- 'खोखले नारे' नहीं तोड़ सकते संकल्पवाराणसी कोर्ट में आज ज्ञानवापी मस्जिद को लेकर अहम बहस, जानें किन मुद्दों पर हो सकता है फैसलादिल्ली में आज एक बार फिर चलेगा बुलडोजर! सुरक्षा के लिए 400 पुलिसकर्मियों की मांगकांग्रेस नेता कार्ति चिंदबरम के करीबी को CBI ने किया गिरफ्तार, कल कई ठिकानों पर हुई थी छापेमारी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.