पीएम मोदी के दौरे पर कांग्रेसियों पर बरसी थीं लाठियां,महाराष्ट्र कांग्रेस महासचिव सचिन सावंत ने डीजीपी को सौंपा ज्ञापन

पीएम मोदी के दौरे पर कांग्रेसियों पर बरसी थीं लाठियां,महाराष्ट्र कांग्रेस महासचिव सचिन सावंत ने डीजीपी को सौंपा ज्ञापन
sachin file photo

Prateek Saini | Publish: Jan, 11 2019 08:35:57 PM (IST) Mumbai, Mumbai, Maharashtra, India

सावंत के साथ सोलापुर के जिला कांग्रेस के अध्यक्ष प्रकाश पाटील समेत वरिष्ठ पदाधिकारी यथवंत हाप्पे, राजन भोसले, राजेश शर्मा मौजूद थे...

(मुंबई): कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को विरोध बर्दाश्त नहीं होता, जिसके चलते वे अपनी हिटलरशाही पर कायम रहते हैं। इसी वजह से 9 जनवरी दिन बुधवार को दौरे की पूर्व संध्या पर सोलापुर में कांग्रेसियों को पुलिस की ओर से डिटेन किया गया। इतना ही नहीं पीएम मोदी की सभा से काफी दूर खड़े काले झंडे दिखाने की कोशिश भर कर रहे युवा कांग्रेसियों को बेइंतहा लाठियों से पीटा गया। इस मामले पर अविलंब उचित कार्रवाई की मांग को लेकर शुक्रवार को कांग्रेस के प्रदेश महासचिव सचिन सावंत ने राज्य के डीजीपी दत्तात्रेय पडसलगीकर से मिलकर ज्ञापन सौंपा। इस दौरान सावंत के साथ सोलापुर के जिला कांग्रेस के अध्यक्ष प्रकाश पाटील समेत वरिष्ठ पदाधिकारी यथवंत हाप्पे, राजन भोसले, राजेश शर्मा मौजूद थे।


पुलिस के खिलाफ गुस्सा

कांग्रेस के प्रदेश महासचिव सचिन सावंत ने शुक्रवार को कहा कि उस दिन पुलिस किसी की भी सुन तक नहीं रही थी, बिल्कुल हुक्मशाही जैसा माहौल था। पुलिस ने नौजवान कार्यकर्ताओं पर भड़ास निकालने का काम किया है। आज लोकतांत्रिक देश में सोलापुर में शहर कांग्रेस और एनएसयूआई समेत बड़ी संख्या में लोगों की अभिव्यक्ति का हनन हुआ है। पुलिस की ओर से किए गए गैरकानूनी और अमानवीय अपराध में संलिप्त पुलिस वालों पर दो दिन बीत जाने पर भी कोई कार्रवाई नहीं की गई। वहीं, सावंत ने कहा कि जनता अब मोदी सरकार के बहकावे में आने वाली नहीं है, जिसका परिणाम लोकसभा 2019 में देखने को मिलेगा।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned