समुद्र का जलस्तर १ फुट तक बढेगा, गर्मी की मार झेलने हो जाओ तैयार

इंडियन इंडस्टिट्यूट ऑफ ट्रॉपिकल मेट्रोलॉजी की रिसर्च
तापमान बढ़ेगा साढ़े चार डिग्री सेल्सियस
तूफानों का आना जाना लगा रहेगा

By: Subhash Giri

Updated: 17 Jun 2020, 03:06 PM IST

ओमसिंह राजपुरोहित
पुणे. आने वाले समय में हमें गर्मी की और अधिक मार झेलने के लिए तैयार रहना चाहिए। देश के कई हिस्सों में गर्म हवा की लहर चार गुना तक बढ़ सकती है। इतना ही नही समुद्री जलस्तर एक फुट तक बढ़ने की भी आशंका है। वहीं राजधानी दिल्ली में गर्मी का कहर अगले कुछ दिन यूं ही जारी रहेगा। ये दावा किया है। पुणे की इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ ट्रॉपिकल मेट्रोलॉजी के वैज्ञनिको द्वारा जारी अपनी रिपोर्ट में। जिसमे वैज्ञनिको ने आने वाले दिनों को लेकर ये बात कही है। ये यह तथ्य उन रिपोर्टो से भी मेल खा रहे हैं जो कुछ विद्वान भविष्य वक्ताओं ने भी अपनी कइ रिपोर्ट के द्वारा चेताया है।
बार-बार विनाशकारी तूफान आने की संभावना
पुणे की इंडियन इंडस्टिट्यूट ऑफ ट्रॉपिकल मेट्रोलॉजी के वैज्ञानिकों ने पत्रिका से बातचीत के दौरान अपनी रिपोर्ट को लेकर कहा कि सदी के अंत तक यानी साल २०९९ के अंत तक तापमान ४.४ डिग्री सेल्सियस बढ़ने का अनुमान है। लू की लहर में ३ से ४ गुना ज्यादा इजाफा होगा। बार-बार विनाशकारी तूफान आने के आसार हैं। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि समुद्री जलस्तर एक फीट तक बढ़ने की आशंका है। ग्रीन हाउस गैस इफेक्ट से मौसम में खतरनाक बदलाव होगा। भारत में आने वाले दिनों पर सावधान करने वाली इस रिपोर्ट में कहा गया है कि पिछले ३० साल में गर्म दिन, ठंडी रातों के तापपान में परिवर्तन हुआ है। गर्म दिन में ०.६३ और ठंडी रात ०.४ डिग्री की बढ़ोत्तरी हुई है। इस रिपोर्ट में कहा गया है साल २१०० तक तापमान में भारी फेरबदल होगा।

Show More
Subhash Giri
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned