जहाँ बाघ, चीता, तेंदुआ की है तादात उस घनघोर जंगल में लग गई आग, जंगल में चार दिनों से मंडरा रहा है खतरा

अचानकमार टाईगर रिजर्व के विभिन्न हिस्सों में भयावह आग लगी हुई है। आग की लपटें लगातार बढते ही जा रही है

By: BRIJESH YADAV

Updated: 04 Apr 2019, 11:20 AM IST

लोरमी. अचानकमार टाईगर रिजर्व के विभिन्न हिस्सों में भयावह आग लगी हुई है। आग की लपटें लगातार बढते ही जा रही हंै, लेकिन विभाग के अधिकारी आग को बुझाने के लिए कोई भी प्रयास नहीं कर रहे हंै। जंगल में लगी आग तेजी से बढ़कर हरे भरे कीमती इमारती लकडिय़ों को अपने चपेट में लेने लगी हैं। रात के समय में जंगल हजारो वर्ग फीट के चमकीले आकार में दिखाई देता है। 
जानकारी के अनुसार गाभीघाट सहित अघरिया, बरगन के जंगलो पर भयानक आग लग चुकी है। अधिकारी आग को बुझाने तो छोड़ जानकारी लेने व मौके पर भी नहीं पहुंचे हंै। सूत्रों की मानें तो अधिकारी बिलासपुर में बैठकर अराम फरमा रहे हैं। आग को लगे 4 दिन हो चुके हैं। इतने में ही अघरिया, बरगन सहित गाभीघाट के बड़े हिस्से को आग ने जलाकर राख कर दिया है। आग पूरी जंगल को अपने कब्जे में ले रहा है। इधर तेज व भीषण गर्मी भी आग में घी का काम कर रही है। सूत्रो की मानें तो बजट नहीं होने का हवाला देकर अधिकारी अभी तक फायर वाचर की नियुक्ति नहीं किए हैं।

निरक्षक भीषण आग को देखकर वापस आ जाते है। वहीं न तो उच्चाधिकारी मौके पर पहुंचे है और न ही जिम्मेदार रेंजर मौके का मुआयना कर रहे हैं।  
जंगली जानवरों पर मंडरा रहा है खतरा
अचानकमार को टाईगर रिजर्व इसलिए बनाया गया कि यहां घनघोर जंगल होने के साथ भारी मात्रा में जंगली जीव रहते हैं। बावजूद इसके आग प्रतिवर्ष लग जाती है, जिससे एटीआर के बड़े हिस्से को नुकसान पहुंचता है। आग ऐसी जगह पर लगती है जहां पर जंगली जानवरों का भारी मात्रा में बसेरा होता है। ऐसे में जिम्मेदार अधिकारियों को चाहिए कि समय रहते व्यवस्था दुरुस्त की जाए।

Show More
BRIJESH YADAV Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned