नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल ने ताऊसर में आरयूबी बनाने को लेकर रेल मंत्री को लिखा पत्र

Nagaur latest hindi news : नागौर के ताउसर गांव स्थित फाटक संख्या सी 68 पर आरयूबी निर्माण का मामला

By: Dharmendra gaur

Published: 01 Jul 2019, 01:04 PM IST

Nagaur Latest Hindi News : नागौर. निकटवर्ती ताउसर गांव स्थित फाटक संख्या सी 68 पर आरयूबी नहीं बनने से विद्यार्थियों व ग्रामीणों को हो रही परेशानी को लेकर ग्रामीणों द्वारा शनिवार को आगामी 21 जुलाई को रेल रोको आंदोलन करने को लेकर रेलवे प्रबंधन को किए गए ट्वीट के बाद उत्तर पश्चिम रेलवे के जोधपुर मंडल रेल प्रबंधक ने संबधित अधिकारी को उचित कार्यवाही करने के निर्देश दिए है। उधर, ग्रामीणों की मांग को लेकर नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल भी रेल मंत्री पीयूष गोयल को पत्र लिखकर इस मामले उचित कार्रवाई करने तथा आरयूबी बनने तक फाटक खुला रखने की मांग कर चुके हैं।

हर पल रहती हादसे की आशंका

ग्रामीणों की मांग व प्रशासन के प्रयासों से रेलवे की ओर से फाटक संख्या सी 68 पर आरयूबी का निर्माण प्रस्तावित होने के बावजूद काम नहीं होने से समस्या जस की तस है। बच्चों व ग्रामीणों को अनाधिकृत रूप से पटरी पार कर जाना पड़ता है। ऐसे में किसी हादसे से इनकार नहीं किया जा सकता। रेलवे ने ताऊसर निवासी मुकेश भाटी द्वारा सूचना का अधिकार के तहत मांगी गई जानकारी में भी स्पष्ट किया है कि फाटक 68 पर आरयूबी का कार्य निर्माण विभाग की ओर से किया जा रहा है, जबकि आज तक इसका निर्माण यहां नहीं हुआ। ग्रामीणों ने रेलवे के टाल मटौल वाले रवैये को लेकर रेल रोको आंदोलन करने का निर्णय लिया है।

जिला कलक्टर ने की थी अनुशंसा

फाटक संख्या 68 को खुला रखने की मांग को लेकर ग्राम पंचायत, ताउसर की ओर से अगस्त 2018 को बैठक में प्रस्ताव लिया गया वहीं राजकीय स्कूलों के संस्था प्रधानों ने भी जिला कलक्टर को पत्र लिखकर जनहित में फाटक संख्या 68 को खुला रखने की मांग की थी। तत्कालीन प्रशिक्षु आईएएस अमित यादव ने अपनी रिपोर्ट में इस फाटक को लोक आवागमन एवं जन सुविधा को ध्यान में रखते हुए खुला रखने की बात कही थी। इसके बाद जिला कलक्टर ने रेलवे अधिकारियों को पत्र लिखकर रेलवे फाटक संख्या 67 के स्थान पर समपार 68 को खुला रखने की अनुशंसा की थी। इसके बावजूद यहां रेलवे की ओर से प्रस्तावित आरयूबी का कार्य नहीं किया गया। क्या हादसों का इंतजार कर रहे अधिकारी रेलवे फाटक के एक तरफ नए राजस्व ग्राम रतनसागर के बास जनासर, मगराबार है वहीं दूसरी तरफ सरकारी स्कूल, पंचायत भवन, पटवार भवन, केन्द्रीय विद्यालय व जलदाय विभाग के भवन समेत अन्य सार्वजनिक भवन है। इन दोनों को जोडऩे वाला सबसे कम दूरी का रास्ता रेलवे फाटक संख्या 68 से ही गुजरता था, जिसे बंद कर दिया गया। रास्ता बंद होने से इस फाटक से गुजरने वाले रास्ते से रोजाना विद्यार्थियों व आम लोगों को आवागमन में परेशानी होती है। फाटक बंद रहने से रेलवे लाइन को अनाधिकृत रूप से पार करना लोगों की मजबूरी है।

Dharmendra gaur Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned