नागौर : अतिक्रमियों की पैरवी करते नजर आए अधिकारी

Dharmendra gaur

Publish: Oct, 13 2017 11:24:33 (IST) | Updated: Oct, 13 2017 01:23:53 (IST)

Nagaur, Rajasthan, India
नागौर : अतिक्रमियों की पैरवी करते नजर आए अधिकारी

अधिकारी बोले, सरकारी जमीन पर बना लिए पक्के मकान, कलक्टर ने कहा, पक्के मकान तोड़े नहीं जा सकते क्या?

नागौर. आम लोगों की परिवेदनाओं को सुनने के लिए गुरुवार को आयोजित जिला स्तरीय सतर्कता समिति की बैठक में सरकारी जमीनों से अतिक्रमण हटाने के बजाय अधिकारी अतिक्रमियों की पैरवी करते नजर आए। तहसीलदार, उपखंड अधिकारी व निकाय अधिकारियों के इस रवैये को देख कलक्टर कुमार पाल गौतम को यह तक कहना पड़ा कि कि अगर अतिक्रमण नहीं हटाआगे तो चार्ज शीट मिलेगी। बैठक व जन सुनवाई में अतिक्रमण के कई प्रकरण पांच साल पुराने होने के बावजूद निस्तारण नहीं होने पर कलक्टर ने नाराजगी जताई।
गलत अनुमति निरस्त करो
सतर्कता समिति में दर्ज नागौर शहर में अवैध कॉम्पलेक्स के प्रकरण में पूर्व में नगर परिषद द्वारा दी गई गलत रिपोर्ट पर आयुक्त को फटकार लगाते हुए कहा कि अगर कोई चीज गलत है तो उसे तोड़ दीजिए, वो नया बनाएंगे। 2014 से प्रकरण चल रहा है, लीपापोती हो रही है। नियम विरुद्ध अनुमति दी है, तो अनुमति निरस्त करो। इसी प्रकार एसडीएम व तहसीलदार को गोवा खुर्द,माडपुरा, बोरावड़, डेगाना, सोमणा में सरकारी भूमि से अतिक्रमण हटाने तथा मेड़ता एसडीएम के निर्णय के आदेश की पालना नहीं करने पर खनि अभियंता गोटन को अवमानना नोटिस देने के निर्देश दिए।
भुगतान में देरी नहीं करें
शौचालय निर्माण के बावजूद राशि के भुगतान में देरी व भुगतान के एवज में रुपए मांगने की शिकायत के मामले में कलक्टर गौतम ने सभी विकास अधिकारियों को निर्देश दिए कि शौचालय निर्माण के बाद यूसी व सीसी जमा कर सात दिन में भुगतान करें। पंचायत समिति स्तर पर भुगतान में देरी होने पर यह माना जाएगा कि इसमें पंचायत समिति का हित निहित है। उन्होंने निर्देश दिए कि यह सुनिश्चित करें कि शौचालय का भुगतान करने के लिए किसी भी स्तर पर कोई गड़बड़ी नहीं हो।
सरपंच से वसूलेंगे 9 लाख
भाकरों की ढाणीए मकराना में गंदे पानी की निकासी के संबंध में कलक्टर ने विकास अधिकारी मकराना को निर्देश दिए कि वे अधिशासी अभियंता मनरेगा, जिला परिषद नागौर को मनरेगा के तहत अण्डर ग्राउड टेंक बनवाने के निर्देश दिए। ग्राम गोठड़ा में सरपंच से गलत कार्यों के भुगतान की 9 लाख 932 हजार रूपए की शीघ्र वसूली करने, सरपंच, ग्राम सेवक व कनिष्ठ सहायक के विरूद्ध एफआईआर दर्ज करवाने व कनिष्ठ सहायक को तुरन्त प्रभाव से राजकीय सेवा से बर्खास्त करने के निर्देश दिए।

जन सुनवाई में 27 परिवादी
संजय कॉलोनी में टंकी के नीचे पानी की निकासी करवाने,कांटिया में नाली निर्माण समेत 21 प्रकरणों की सुनवाई कर 7 का निस्तारण किया गया। जन सुनवाई में 27 परिवादी उपस्थित हुए। रोल चान्दावता के ग्रामीणाों ने रास्ता खुलवाने, मोहम्मद अनवर चौहान ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में महिला विशेषज्ञ लगाने व नागौर के ओमप्रकाश ओझा ने समाज कल्याण भवन के पीछे पार्क के चार दीवारी बनाने की मांग की। बैठक में मकराना विधायक श्रीराम भींचर, एडीएम छगनलाल गोयल समेत जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned