जेटीए की बर्खास्तगी के विरोध में उतरे नागौर जिले के सरपंच

नागौर जिला परिषद सीईओ ने आखिर ऐसा क्या कर दिया कि जिले के सरपंचों ने लगाए गंभीर आरोप..।

By: Dharmendra gaur

Published: 09 Dec 2017, 02:08 PM IST

नागौर. जिला सरपंच संघ ने जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी केएल मीणा की मूण्डवा जेटीए को बर्खास्त करने की कार्रवाई को लेकर सवाल उठाए हैं। शुक्रवार को सरपंच संघ के बैनर तले कलक्टर के पास पहुंचे सरपंचों ने सीईओ पर द्वेषतापूर्वक कार्रवाई कर जेटीओ को निलम्बित करने का आरोप लगाते हुए कहा कि सीईओ मीणा ने संभागीय आयुक्त के आदेश को दरकिनार करते हुए जेटीओ के विरुद्ध कार्रवाई की। गौरतलब है कि सरपंचों ने मूण्डवा पंचायत समिति में चल रहे कार्यों के मस्टररोल जमा करवा दिए थे।
कलक्टर से मिले सरपंच
जिला सरपंच संघ अध्यक्ष अर्जुनराम काला ने बताया कि संभागीय आयुक्त ने मामले की जांच के आदेश दिए थे, लेकिन सीईओ मीणा ने संभागीय आयुक्त के आदेश को नजरअंदाज करते हुए जेटीए ओमप्रकाश को निलंबित कर दिया। मीणा ने इस आदेश को फाइल में शामिल नहीं किया। इस मामले में सभी सरपंच कलक्टर से मिले और पूरे प्रकरण की जानकारी दी। कलक्टर ने संभागीय आयुक्त का पत्र नहीं मिलने की बात कही।
आदेश को छिपाने की कोशिश
काला व सरपंचों ने बताया कि सीईओ व विकास अधिकारी को आदेश की प्रति मिली है। कलक्टर के आग्रह पर सभी सरपंच सीईओ के पास पहुंचे व जेटीए के प्रकरण से जुड़ी फाइल मंगवाई। सीईओ ने फाइल में रखा संभागीय आयुक्त का आदेश छिपाने की कोशिश की। इस पर सीईओ ने कहा कि कर्मचारी से गलती हुई है, लेकिन जब कर्मचारी से पूछा गया तो उसने कहा कि उच्चाधिकारियों ने आदेश फाइल में शामिल करने से मना किया था।
द्वेषतापूर्ण कार्रवाई अनुचित
मूण्डवा प्रधान राजेन्द्र फिड़ौदा ने कहा कि सरपंचों की ओर से ग्रामसेवकों व जेटीए के निलम्बन की कार्रवाई के विरोध में किए जा रहे कार्य बहिष्कार का समर्थन करते हुए कहा कि द्वेषतापूर्ण कार्रवाई करना उचित नहीं है। जिला सरपंच संघ अध्यक्ष अर्जुनराम काला, खजवाना सरपंच मीना चौधरी, रोज सरपंच सुशीला, माणकपुर सरपंच पुष्पादेवी, पालड़ी सरपंच जगदीश समेत, रुपाथल, कड़लू, गोठड़ा, रुण, जनाणा, भाकरोद आदि सरपंचों ने संयुक्त हस्ताक्षरित ज्ञापन सौंपा।

Dharmendra gaur Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned