आर्यभट्ट उपग्रह की याद दिलाता है नागौर का यह पैनोरमा

Dharmendra gaur

Publish: Feb, 15 2018 08:05:51 PM (IST)

Nagaur, Rajasthan, India
आर्यभट्ट उपग्रह की याद दिलाता है नागौर का यह पैनोरमा

राजस्थान के नागौर के पास स्थित पींपासर में आमजन के लिए खोला गुरु जम्भेश्वर पैनोरमा।

-चित्रों से दर्शाया गया है खेजड़ली बलिदान का संदेश

नागौर. जिला मुख्यालय से 50 किलोमीटर दूर पीपासर गांव में स्थित गुरु जम्भेश्वर पैनोरमा गुरुवार को आम जनता के लिए प्रायोगिक तौर पर खोल दिया गया। पैनोरमा में गुरु जम्भेश्वर के 1451 में जन्म से लेकर विभिन्न आध्यात्मिक शिक्षा तथा सामाजिक सुधार में किए कार्यों को दर्शाया गया है। राजस्थान धरोहर संरक्षण एवं प्रोन्नति प्राधिकरण के अध्यक्ष ओंकार सिंह लखावत ने बताया कि आमजन इस पैनोरमा को देख सकेंगे।
डिजायन से दर्शाए 29 नियम
लखावत ने बताया कि यह पैनोरमा हमारे देश के उपग्रह आर्यभट्ट की डिजाइन पर बनाया गया है। इसके पीछे हमारा मकसद यह था कि गुरु जम्भेश्वर के सभी नियम वैज्ञानिक तथ्यों पर आधारित थे और वे एक अच्छे वैज्ञानिक की तरह सभी बातों को प्रतिस्थापित किए हुए थे। लखावत ने बताया कि आर्यभट्ट की डिजाइन पर बनी इस पैनोरमा में जम्भेश्वर भगवान के 29 नियमों को रंगीन और कलात्मक डिजाइन के साथ दर्शाया गया है। पैनोरमा में खेजड़ी का बलिदान तथा पशु पक्षियों के प्रेम का संदेश भी बखूबी दर्शाए गए हैं।
अकाल के उपायों की जानकारी
गुरु जम्भेश्वर के 29 नियमों में से 8 नियम जैव विविधता तथा जानवरों के लिए, 7 धर्म आदेश व समाज की रक्षा के लिए तथा 10 उपदेश खुद की सुरक्षा और अच्छे स्वास्थ्य के लिए है। चित्रों में गुरु जम्भेश्वर द्वारा जल से दीपक जलाना और प्रथम शब्द वाणी का उच्चारण जांभोजी का पशु मेला, पशु प्रेम दर्शाए गए हैं। 1542 में समराथल में अकाल पीडि़तों के लिए किए गए उपायों के बारे में चित्रों के माध्यम से यह भी बताया गया है। गुरु जम्भेश्वर द्वारा शेख सद्दो से गौवध रोकने के बारे में तथा शेख सद्दो द्वारा गौवध ना करने की प्रतिज्ञा के बारे में बताया गया है।
ग्रामीणों ने किया पौधरोपण
लखावत ने बताया कि करीब एक करोड़ की लागत से बने पैनोरमा में आमजन का 10 रुपए तथा विद्यार्थियों को 5 रुपए का टिकट रखा गया है। गुरुवार को औंकारसिंह लखावत, जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के अधिशाषी अभियंता जेके चारण सहित ग्रामीणों ने विभिन्न प्रजातियों के पौधे लगाएं। इससे पहले पैनोरमा परिसर में वन विभाग तथा पर्यावरणप्रेमी हिम्मताराम भांभू की ओर से 100 पौधे लगाए गए हैं।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned