नागौर कांग्रेस संकल्प रैली में बोले सचिन पायलट, अब होगी राजा और रंक की लड़ाई

नागौर कांग्रेस संकल्प रैली में बोले सचिन पायलट, अब होगी राजा और रंक की लड़ाई

kamlesh sharma | Publish: Sep, 12 2018 10:00:15 PM (IST) Nagaur, Rajasthan, India

https://www.patrika.com/rajasthan-news/

नागौर। कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट ने भरतपुर संभाग की संकल्प रैली के दूसरे ही दिन फिर बुधवार को अजमेर संभाग की रैली में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे पर हमला बोला है कि अब राजा और रंक की लड़ाई होगी। महलों में बैठने वालों की नहीं, आमजन की होगी अगली सरकार। अब समय आ गया है, महलों और किलो में रहने वालों को बाहर रास्ता दिखाने का। उन्होंने कि कांग्रेस संकल्प लेती है कि सरकार में आमजन, गरीब, किसान और मजदूर सभी की भागीदारी होगी। लोगों को लगेगा कि उनकी अपनी सरकार अब सत्ता में लौटी है। मुख्यमंत्री बार-बार हमें राजनीति में नौसिखिया बता रही हैं, लेकिन हम उन्हें 'मुख्यमंत्री' राजनीति सिखाने में सक्षम हैं। पायलट अजमेर संभाग की नागौर के परबतसर में आयोजित संकल्प रैली में बोल रहे थे।

कांग्रेस की यह पांचवीं संभागीय संकल्प रैली थी। उन्होंने कहा कि भाजपा अभी सत्ता में है, कांग्र्रेस रोजाना मुख्यमंत्री से एक सवाल पूछ रही है। लेकिन वे उस सवाल का जवाब तो दे नहीं है। उल्टा जयपुर में आकर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह कांग्रेस से सवाल पूछ रहे हैं। भला जो पार्टी पहले ही विपक्ष में है, वह क्या जवाब देगी। जवाब तो सत्ताधारी दल को जनता को देना होगा। वैसे भी अब भाजपा सरकार जाने वाली है। इसका सबूत है कांग्रेस की संकल्प रैलियों में जनता का जनसैलाब उमडऩा। जनता अब भाजपा से सूत समेत बदला लेने की मूड़ में है। सरकार ने अब तक किसान, मजदूर, गरीब और व्यापारी सभी के साथ धोखा ही किया है।

इसी जवाब जनता ने उन्हें हाल ही उपचुनाव में दिया था। धोखे का शिकार हो रहे किसानों को अब फसल का सही मुआवजा कांग्रेस सरकार देगी। नागौर की भीड़ को देखकर लग रहा है कि लोगों में कांग्रेस को लेकर उमंग और उत्साह का माहौल है। लेकिन इस जोश को होश में आकर काम में लेना है। भाजपा के लोग अब कोई भी हथकण्डा अपना सकते हैं। रैली में भी खतरा पैदा कर सकते हैं। राजस्थान अब चाहे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आएं या फिर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह। वे जनता के मूड़ को नहीं बदल सकते। सरकार

2019 तक, बात कर रहे 2022 तक की
कांग्रेस के राष्ट्रीय संगठन महासचिव अशोक गहलोत ने कहा कि केन्द्र की भाजपा सरकार 2019 तक सत्ता में है। लेकिन ये लोग 2022 तक की बात कर रहे हैं। आज देश के हालात बदतर है। चारों ओर तबाही मचा रखी है। घमण्ड में बोलते हैं। जवाहर लाल नेहरू के खिलाफ बोलने से भी नहीं चूकते, जिन्होंने 12 साल जेल में बिताए। क्या भाजपा के लोगों ने आजादी के लिए कभी अंगुली भी कटाई। प्रदेश में 28 साल में से 18 साल भाजपा सत्ता में रही, लेकिन क्या दिया? पेट्रोल-डीजल की मंहगाई को लेकर भारत बंद किया। बंद सफल रहा तो घबराहट में अमित शाह कुछ भी बोल रहे हैं। उनके शासन से आज मुल्क में लोग दुखी हैं। कोई भी वर्ग खुश नहीं। ये 50 साल राज करने की बात करते हैं।

लोकतंत्र में इनकी रूचि नहीं। मुख्यमंत्री भारी बहुमत से जीतने के बाद किसी से मिली नहीं। उन्हें पता होना चाहिए लोकतंत्र में तानाशाही नहीं चलती। गहलोत ने कहा कि लोगों में जोश है, टिकट की दौड़ में भी काफी लोग हैं। जब तक टिकट नहीं मिलता सभी अपने पैरवी करें। लेकिन जब टिकट किसी को मिल जाए तो सच्चे कांग्रेसी की तरह उसे जिताकर जयपुर भेजने का काम करें। ऐसा नहीं हो कि हमारी आपसी नाराजगी का भाजपा के लोग भायदा उठा जाएं।

ये भी बोले
प्रदेश प्रभारी अविनाश पाण्डे ने कहा कि वर्तमान भाजपा सरकार ने लोगों और माता-बहनों के साथ जो छल किया है। उसका बदला लेने का अब सही समय है। हमें कांग्रेस की मजबूत सरकार प्रदेश और केन्द्र में लाने का संकल्प लेना है। नागौर से कांग्रेस को स्वतंत्रता आंदोलन के बाद से लगातार अब तक भारी समर्थन मिला है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सी.पी. जोशी ने कहा कि आजादी के समय देश के क्या हालात थे। सभी जानते हैं। लेकिन कांग्रेस सत्ता में आई और नीतिया बनाकर काम किया। अब हमें नया राजस्थान बनाना है।

नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी ने कहा कि भाजपा ने सत्ता में आने के लिए चुनाव में जनता से 611 वादे किए। लेकिन एक भी काम नहीं किया। सिवाय झूंठ बोलने के। किसान कर्ज से डूबा हुआ है। हर वर्ग परेशान है। समर्थन मूल्य पर फसल खरीदी नहीं गई। अब जनता ने कांग्रेस को सत्ता में बिठाने का मन बना लिया है।

मोहन प्रकाश ने कहा कि जो बाबा भाजपा सरकार की पैरवी करते थे। वे या तो आज जेल में हैं, या बड़े लाला बन गए हैं। पूर्व केन्द्रीय मंत्री जितेन्द्र ङ्क्षसह ने कहा कि नागौर की वीर भूमि के सपूतों ने देश की आजादी और सीमाओं की रक्षा में हमेशा आगे बढ़कर योगदान दिया है। भाजपा के मंत्रियों ने जनता को लूटा।

अब गौरव यात्रा निकाल रहे हैं। यह गौरव नहीं भाजपा की शव यात्रा है। इस मौके पर रघुवीर मीणा व नमोनारायण मीणा ने भी विचार व्यक्त किए।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned