scriptThe body of the son of Lalas merges into the five elements. | लालास के सपूत की पार्थिव देह पंचतत्व में विलीन | Patrika News

लालास के सपूत की पार्थिव देह पंचतत्व में विलीन

चितावा (नागौर). कस्बे के निकटवर्ती ग्राम लालास के शहीद सूबेदार महेन्द्र कुमार मुवाल का पार्थिव शरीर बुधवार सुबह सवा बारह बजे उनके पैतृक गांव पहुंचा। शहीद की अंतिम यात्रा में बड़ी संख्या में लोग हाथों में तिरंगा लेकर भारत माता की जय, शहीद महेन्द्र कुमार मुवाल अमर रहे के नारे लगाते चल रहे थे। काफी लम्बा वाहनों का काफिला भी साथ था। अंतिम यात्रा में आस-पास के गांवों से हजारों की संख्या में लोग शामिल हुए।

नागौर

Published: January 13, 2022 04:41:42 pm

- कश्मीर के कूपवाड़ा में बर्फबारी की चपेट में आने से निधन
-सैन्य सम्मान के साथ हुआ अंतिम संस्कार, पुत्र व बेटी ने दी पिता की चिता को मुखग्नि

जम्मू-कश्मीर में बर्फीली पहाड़ी पर तैनात थे महेन्द्र कुमार, 5 जनवरी को ली थी अंतिम सांस
लालास के सपूत की पार्थिव देह पंचतत्व में विलीन
चितावा. सेना की गाड़ी से शहीद की पार्थिव देह को घर में लाते हुए।
जैसे ही शहीद का पार्थिव शरीर गांव में पहुंचा लोगों की आंखें नम हो गई तो उनकी शहादत पर गर्व भीहुआ। शहीद के परिजनों को रो रोकर बुरा हाल था। पनी कमला बार-बार बेसुध हो रही थी। परिजनों, रिश्तेदारों तथा वहां मौजूद लोगों को शहीद के अंतिम दर्शन कराए गए। सैन्य सम्मान के साथ शहीद के पार्थिव शरीर का अंतिम संस्कार राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय के सामने किया गया। पुत्र संदीप व बेटी पूजा ने पिता की चिता को मुखाग्नि दी।
पांच जनवरी को अंतिम सांस ली

शहीद सूबेदार मुवाल जम्मू-कश्मीर में बर्फीली चोटी पर तैनात थे। वहां बर्फबारी ज्यादा होने से बर्फबारी की चपेट में आ गए। उन्होंने पांच जनवरी को अंतिम सांस ली। भारी बर्फबारी के चलते उनके पार्थिव शरीर को बेस कैंप लाना मुश्किल हो रहा था। बाद में पार्थिव देह को हेलिकॉप्टर से बेस कैंप पहुंचाया गया।
शहीद के पुत्र व पुत्री को दिया तिरंगा

अंतिम संस्कार से पूर्व सेना के अधिकारियों ने शहीद मुवाल के पुत्र व बेटी को तिरंगा सौंपा। यह नजारा देखकर हर आंख नम हो गई, वहीं भारत माता और शहीद महेन्द्र अमर रहे के जयकारों ने लोगों में देशभक्ति का जोश भर दिया।
जनप्रतिनिधियों व सैन्य अधिकारियों ने कि ए पुष्प चक्र अर्पित

उपमुख्य सचेतक महेन्द्र चौधरी, सूबेदार बगिडय़ा, सरपंच मनोज लोरा, खारिया सरपंच देवीलाल दादरवाल, युवा विकास संस्थान राजस्थान के अध्यक्ष विवेक कालेर, कर्नल नन्द किशोर ढाका, राष्ट्रीय लोकतांत्रिका पार्टी के सदस्य भूराराम शेषमां, खींवसर विधायक नारायणराम बेनीवाल, शिल्प व माटीकला बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष हरीशचन्द्र, जिला परिषद सदस्य सुनील भींचर, शेखावाटी एजुकेशन ग्रुप चेयरमैन बीएल रणवां, समाज सेवी लालास त्रिलोक शेषमां, कुचामन नगरपालिका अध्यक्ष आसीफ खान, कुचामन पालिका उपाध्यक्ष हेमराज चावला व सैन्य अधिकारियों सहित अन्य जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों ने शहीद को पुष्पचक्र अर्पित कर सलामी दी। सेना के जवानों ने गार्ड ऑफ ऑनर दिया।
लोगों ने की पुष्प वर्षा

शहीद की अंतिम यात्रा पर महात्मा गांधी स्कूल सहित अन्य स्कूल के विद्यार्थियो ने पुष्पवर्षा कर सम्मान किया। लालास में सरकारी स्कूल के समाने दोनों तरफ खड़े होकर एनसीसी कैडेट्स ने भी पुष्प वर्षा कर शहीद को अंतिम विदाई दी। लोगों ने घरों की छतों सहित पेड़ों पर चढकर शहीद पर पुष्प वर्षा की।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.