बीती रात लूणवां चौक में फिर हुआ अतिक्रमण

बीती रात लूणवां चौक में फिर हुआ अतिक्रमण
Chousla News

Suresh Vyas | Publish: Jul, 20 2019 06:33:28 PM (IST) Nagaur, Nagaur, Rajasthan, India

नावां के ग्राम लूणवां स्थित सार्वजनिक चौक में ग्राम पंचायत की भूमि पर अतिक्रमण कर कब्जा किए जाने का खेल खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है।

चौसला. पंचायत समिति नावां के ग्राम लूणवां स्थित सार्वजनिक चौक में ग्राम पंचायत की भूमि पर अतिक्रमण कर कब्जा किए जाने का खेल खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। मजे की बात तो यह है कि लूणवां राजीव गांधी सेवा केन्द्र में तहसील प्रशासन मौजूद और चौक में अतिक्रमी भूमि पर खुलेआम कातले रोपकर जाली लगा रहे है। लम्बे-चौड़े चौक में कातले रोपकर जाली लगाने से तस्वीर ही बदसूरत लगने लगी है। अब लूणवां चौक में अतिक्रमण की जड़े इतनी गहरी होती जा रही है कि उन्हें उखाड़ पाना अब किसी के बस की बात नहीं लग रही है। गौरतलब है कि 18 मई को रात में अतिक्रमी करीब 70 फीट लम्बाई और 30 फीट चौड़ाई में नींव खोदकर कातले रोप दिए और लोहे की जाली लगा दी। बाद में न्यायालय से अतिक्रमण यथावत रखने का आदेश ले आए। करीब दो माह बीत जाने के बाद अतिक्रमियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं होने से हौसले इस कदर बुलंद हो गए कि बीती रात गांव के कुछ और लोगों ने करीब 150 फीट लम्बाई और 40 फीट चौड़ाई में कातले रोपकर लोहे की जाली लगा दी। शनिवार सुबह जब गांव के अन्य लोगों को इस बात का पता चला तो बवाल इतना बढ़ गया कि लोग आपस में लडऩे-झगड़े पर उतारू हो गए। जब इस बारे में उपखण्ड अधिकरी को सूचना मिली तो शांति बनाए रखने के लिए पुलिस बल भेज दिया। करीब आधा घंटे बाद नावां पंचायत समिति के विकास अधिकारी रामनिवास चौधरी व पंचायत प्रसार अधिकारी विनोद गौड़ भी वहां पहुंच गए। सरपंच गोपाल कृष्ण सोनी को बुलाकर आक्रोशित लोगों को विकास अधिकारी व पुलिस समझाने लगे कि पूरे चौक का अतिक्रमण 24 जुलाई को हटा दिया जाएगा। जिस पर लोग नारे लगाने लग गए और कहने लगे प्रशासन अतिक्रमण हटाने के नाम पर पिछले दो माह से झूठा आश्वासन दे रहा है, अगर हटाना ही है तो आज ही हटाएं, नहीं तो अब हमें हटाना पड़ेगा। गुस्साए लोग 18 मई को चौक के बीच किए गए अतिक्रमण को हटाने के लिए कातले उखाडऩे लगे तो पुलिस ने लोगों को शांति बनाए रखने की अपील की और समझाइश कर रोक दिया।
आदेश फाइलों में फांक रहे धूल
गुस्साए तहसील व पंचायत समिति प्रशासन द्वारा 6 जुलाई को अतिक्रमण हटाने के आदेश किए थे, जो फाइलों में ही धूल फांक रहे है। ग्रामीणों ने बताया कि लूणवां अतिशय दिगम्बर जैन मंदिर में हर साल लगने वाला मेला व दशहरा मेले के लिए मैदान पर्याप्त था, लेकिन प्रशासन के ऐसे रवैय और राजनीतिक व निजी कारणों के चलते तत्कालीन अफसरों ने अपनी आंखें मूंद रखी है। जिस कारण चौक में अब कंकरीट के जंगल उग आए और स्थिति विकराल होती चली गई। अब तो हालात यह हो गए कि स्थाई अतिक्रमण के बाद अब अस्थाई अतिक्रमण ने लोगों के सामने निकलने तक का संकट खड़ा कर दिया है।
24 जुलाई को हटा देंगे अतिक्रमण
लूणवां सार्वजनिक चौक से सम्पूर्ण अतिक्रमण 24 जुलाई को हटाकर अतिक्रमियों बेदखल कर दिया जाएगा।- रामनिवास चौधरी, विकास अधिकारी, पंचायत समिति नावां
आगे से आगे बढ़ा रहे तारीख
पिछले दो माह से नावां तहसील व पंचायत समिति के चक्कर लगाने के बाद नागौर जिला कलक्टर तक गुहार लगा चुके है, मगर अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई की तारीख आगे से आगे बढ़ा रहे हैं।
गोपाल कृष्ण सोनी सरपंच ग्राम पंचायत लूणवां

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned