वीडियो : प्रतापगढ़ से शकीना लाती हेरोइन-कोकिन, डीडवाना बस स्टैण्ड पर भंवरलाल को देती डिलीवरी

shyam choudhary | Publish: Jan, 16 2018 11:37:33 PM (IST) Nagaur, Rajasthan, India

लाडनूं थाने के शिमला गांव में हेरोइन व कोकिन बेचने का मामला, आरोपित सालासर से पहुंचाता था पंजाब व हरियाणा तक

नागौर. जिले के लाडनूं थाना पुलिस द्वारा सोमवार रात को शिमला गांव से गिरफ्तार किए गए आरोपित भंवरलाल शर्मा ने पूछताछ में कई चौंकाने वाले खुलासे किए हैं। मंगलवार को नागौर एसपी परिस देशमुख ने लाडनूं थाने में पत्रकारों को जानकारी देते हुए बताया कि शिमला निवासी आरोपित भंवरलाल पुत्र किशन ब्राह्मण पिछले काफी समय से मादक पदार्थों की तस्करी कर रहा था। ये मादक पदार्थ वह प्रतापगढ़ व मध्यप्रदेश के नीमच से मंगवाता तथा स्थानीय स्तर पर सप्लाई करने के साथ पंजाब व हरियाणा में भी सप्लाई करता था। पुलिस पूछताछ में भंवरलाल ने बताया कि प्रतापगढ़ की शकीना नाम की एक विकलांग महिला उसे पदार्थ लाकर डीडवाना बस स्टैण्ड पर डिलीवरी देती थी, जिसे वह सालासर में पंजाब व हरियाणा के तस्करों को सप्लाई करता था।

पंजाब की जेल में हुई बड़े तस्करों से डील
एसपी देशमुख ने बताया कि हेरोइन, कोकिन, अफीम, स्मैक जैसे मादक पदार्थों की तस्करी का आरोपित भंवरलाल वर्ष 2010 में मादक पदार्थ की तस्करी करते हुए पंजाब के फरीदकोट जिले में गिरफ्तार हो चुका है। उसी दौरान जेल में आरोपित की पहचान बड़े तस्करों व नशेबाजों से हुई, जिस पर वह प्रतापगढ़, नीमच से अपने घर पर अवैध मादक पदार्थ मंगवाता व सालासर जाकर हरियाणा व पंजाब के तस्करों को डिलीवरी देता था। इसके साथ वह स्थानीय युवाओं को भी नशे की लत लगा रहा था। यही भूल उसके लिए खतरनाक साबित हुई। स्थानीय स्तर पर युवाओं को नशे की लत लगाने पर किसी मुखबिर ने लाडनूं थानाधिकारी भजनलाल को सूचना दे दी। थानाधिकारी को सूचना मिली कि शकीना नाम की प्रतापगढ़ की एक औरत जो एक पैर से लंगड़ाकर चलती है, अवैध मादक पदार्थों की डिलीवरी डीडवाना बस स्टैण्ड पर आरोपी भंवरलाल को करके जाती है।

 ऐसे आया पकड़ में
एसपी देशमुख ने बताया कि लाडनूं थानाधिकरी को सूचना मिलने के बाद उन्होंने एक टीम का गठन किया, जिसमें लाडनूं थानाधिकारी, भजनलाल, एएसआई भंवरलाल, हैडकांस्टेबल भंवरूराम, राज कुमार, कांस्टेबल गोपालराम, परमेश्वरी, सत्यम, पोकर राम को शामिल किया गया। टीम ने अथक प्रयास कर गुप्त रूप से आरोपित भंवरलाल की गतिविधियों पर लगातार नजर रखी। आरोपी भंवरलाल से मिलने वाले हर शख्स के बारे में गोपनीय रूप से पड़ताल की। पड़ताल में सामने आया कि आरोपित के पास नीमच व प्रतापगढ़ के साथ हरियाणा व पंजाब से लोगों की काफी आवाजाही है। आरोपित की गतिविधियों भी संदिग्ध पाई गई। सोमवार रात करीब 8 बजे मुखबिर से सूचना मिली कि आरोपित अपने घर में भारी मात्रा में मादक पदार्थ हेरोइन व कोकिन लेकर आया है तथा लोगों को बेचने वाला है। जल्द ही पुलिस रेड हो तो भारी मात्रा में मादक पदार्थ भंवरलाल के घर पर मिल सकता है। जिस पर डीडवाना एएसपी श्रीमनलाल मीणा के निर्देशन व डीडना वृत्ताधिकारी डॉ. दीपक यादव के नेतृत्व में थानाधिकारी लाडनूं को टीम के साथ रेड देने का आदेश दिया गया। पुलिस ने दबिश देकर भंवरलाल के घर से 935 ग्राम हेरोइन व 104 ग्राम कोकिन जब्त की। जब्ती के दौरान मादक पदार्थ की पहचान नोरकोटिक्स ड्रग्स डिटेक्शन किट के द्वारा की गई। पुलिस ने जब्त हेरोइन व कोकिन की अंतरराष्ट्रीय बाजार में अनुमानित कीमत 2 करोड़ आंकी है। मौके से एक इलेक्ट्रोनिक वेट मशीन, अवैध मादक को पैकिंग करने की छोटी-मोटी प्लास्टिक की थैलियां भी बड़ी मात्रा में बरामद हुई हैं। आरोपी भंवरलाल से पांच विभिन्न बैंकों के एटीएम कार्ड भी मिले हैं, जिनकी अलग से जांच की जा रही है। आरोपित के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट में मामला दर्ज कर जसवंतगढ़ थानाधिकारी कैलाश विश्नोई को जांच सौंपी है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned