ट्रैफिक जाम बन रहा है महिलाओं को होने वाली इस भयावह बीमारी की वजह

ट्रैफिक जाम बन रहा है महिलाओं को होने वाली इस भयावह बीमारी की वजह

Deepak Sahu | Publish: May, 15 2019 07:58:02 PM (IST) Narayanpur, Narayanpur, Chhattisgarh, India

एक रिसर्च (Research) में इस बात का खुलासा हुआ है कि महिलाओं को हैवी ट्रैफिक में सफर करने से बचना चाहिए। इसके पीछे जो वजह बताई गई वो काफी चौंकाने वाली थी।

नारायणपुर. ट्रैफिक जाम सिर्फ वक़्त ही बर्बाद नहीं कर रहा है बल्कि इसके कारण होने वाले एयर पॉल्यूशन (Air polution) से महिलाओं में कैंसर का खतरा भी बढ़ता है।ट्रैफिक दौरान होने वाला प्रदूषण ना सिर्फ आपके फेफड़ों को नुकसान पहुंचाता है बल्कि इसकी वजह से आप कई जानलेवा बीमारियों की चपेट में भी आ जाते हैं।

हालही में हुई एक रिसर्च में इस बात का खुलासा हुआ है कि महिलाओं को हैवी ट्रैफिक में सफर करने से बचना चाहिए। इसके पीछे जो वजह बताई गई वो काफी चौंकाने वाली थी। दरअसल, रिसर्च में पता चला कि जिन महिलाओं का ट्रैफिक वाली जगहों पर किसी भी वजह से ज्यादा वक्त बीतता है उन्हें एयर पॉल्यूशन की वजह से ब्रेस्ट कैंसर (Breast Cancer) होने की संभावना बनी रहती है।

स्टडी में बताया गया कि सड़क पर काम करने वाली एक महिला कैंसर की शिकार बन गई। दरअसल यह महिला उत्तरी अमेरिका में सबसे बिजी कमर्शियल सीमा पारगमन पर बतौर बॉर्डर गार्ड के रूप में काम करती थी। इस महिला ने करीब 20 साल तक गार्ड का काम किया। इसी दौरान वह ब्रेस्ट कैंसर की शिकार हो गई।

गौर करने वाली बात यह है कि यह महिला उन पांच बॉर्डर गार्ड्स में से एक थी, जिन्हें 30 महीने के अंदर ब्रेस्ट कैंसर हुआ। माइकल गिल्बर्टसन के मुताबिक निष्कर्षों में पाया गया कि ब्रेस्ट कैंसर के शिकार लोग यातायात संबंधी एयर पॉल्यूशन के अत्यधिक संपर्क में थे।

इस शोध में एक और खास चीज सामने निकलकर आई। शोधकर्ताओं ने रात के समय काम करने और कैंसर के बीच एक संबंध की भी पहचान की है।गिल्बर्टसन ने कहा, "यह नया शोध जनसंख्या में ब्रेस्ट कैंसर के बढ़ते मामलों में यातायात संबंधी प्रदूषण के योगदान की तरफ भी इशारा करता है। एक पत्रिका में प्रकाशित इस स्टडी में कहा गया है कि 10,000 मौकों में से एक मामले में यह एक कोइंसिडेंट था क्योंकि यह सभी बहुत हद तक समान थे और आपस में एक दूसरे के जुड़े हुए थे।

सेलिब्रेटी भी शिकार हैं ब्रेस्ट कैंसर के

बॉलीवुड दुनिया में अगर एक नजर डालें तो आप पाएंगे कि कई नामी हस्तियां भी इस बीमारी की चपेट में आ चुकी हैं। जिसमें सबसे पहला नाम याद आता है मनीषा कोईराला का तो लीजा रे और मुमताज भी इससे अछूती नहीं रहीं। हालांकि इन सब अभिनेत्रियों ने अपनी हिम्मत और हौसले के बल पर ब्रेस्ट कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी को मात दी। हाल ही में खबर आई थी कि सोनाली बेंद्रे और आयुष्मान खुराना की पत्नी ताहिरा कश्यप को भी ब्रेस्ट कैंसर है। अगर आप भी चाहते हैं कि आप इस बीमारी से बचे रहें तो एयर पॉल्यूशन से होने वाले खतरों से आगाह रहें।

कैंसर से बचने के उपाय

-शक्कर का सेवन कम-से-कम करें। एक अध्ययन में यह बात सामने आई है कि महिलाओं में कोलोरेक्टल कैंसर की सम्भावना शक्कर के सेवन से काफी बढ़ जाती है।

-ज्यादा से ज्यादा पत्तेदार सब्जियां, चना और फल का सेवन करें। सब्जियों और फलों में फाइबर मौजूद होता है जो शरीर को रोगों से लड़ने की क्षमता प्रदान करता है। इइसमें मौजूद एंटी-ऑक्सिडेंट तत्व कैंसर पैदा करनेवाले रसायनों को नष्ट करने में अहम भूमिका अदा करते हैं। फूलगोभी, पत्तागोभी, टमाटर, एवोकाडो, गाजर जैसे फल और सब्जियां अपने आहार में जरूर शामिल करें।

-अधिक शराब पीने से खाने की नली, गले, लिवर और ब्रेस्ट कैंसर का खतरा हो सकता है। ड्रिंक में अल्कोहल की ज्यादा मात्रा और साथ में तंबाकू का सेवन कैंसर का खतरा कई गुना बढ़ा देता है। इसलिए कैंसर से बचने के लिए एल्कोहल का सेवन बंद करें।

-गर्भनिरोधक गोलियों का इस्तेमाल लम्बे समय तक न करें। गर्भनिरोधक गोलियों का सेवन लंबे समय तक करने से औरतों में स्तन कैंसर के अलावा लीवर कैंसर होने का खतरा भी बना रहता है।

-महिलाओं में स्तन कैंसर सबसे सामान्य कैंसर है। अधिकतर महिलायें इसके लक्षण से अनभिज्ञ रहती हैं, इसलिए यह बीमारी काफी फैल जाती है। इसलिए जरूरी है कि इसकी जांच करवाते रहा जाए।यदि स्तन में किसी प्रकार की गांठ या असामान्यता नजर आए तो फौरन चिकित्सक से संपर्क करें।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned