पुलिस ने नक्सली समझा और नक्सलियों ने जासूस,मारे-मारे फिर रहे अबूझमाड़ के ये आदिवासी

पुलिस ने नक्सली समझा और नक्सलियों ने जासूस,मारे-मारे फिर रहे अबूझमाड़ के ये आदिवासी

Deepak Sahu | Updated: 28 Apr 2019, 09:50:21 PM (IST) Narayanpur, Narayanpur, Chhattisgarh, India

नक्सलियों के डर के कारण पाँचों परिवारों अपना घर बार छोड़कर नारायणपुर पहुंच गए हैं।गाँव के ही कुछ लोगों ने बताया की नक्सलियों ने इन्हे जान से मारने का फरमान जारी कर दिया है।

नारायणपुर. आदिवासियों के हक़ के लिए हथियार उठाने वाले नक्सलियों ने उन्ही की जिंदगी को जहन्नुम बना दिया है। नारायणपुर के अबूझमाड़ इलाके में रहने वाले दस आदिवासी लोग अपनी जान बचाने के लिए दर दर की ठोकरें खा रहे हैं उनके पास ना रहने को ठिकाना है और ना ही खाने को खाना।

उनकी गलती बस इतनी सी है की उन्हें पुलिस ने नक्सली होने के शक में गिरफ्तार कर लिया और 6 महीने तक जेल में रखा था इसलिए नक्सलियों को लगता है की पुलिस ने उन्हें अपना मुखबिर बना कर भेजा है। नक्सली इन सभी लोगों को मारने की योजना बना रहे हैं।

नक्सलियों के डर के कारण पाँचों परिवारों अपना घर बार छोड़कर नारायणपुर पहुंच गए हैं।गाँव के ही कुछ लोगों ने बताया की नक्सलियों ने इन्हे जान से मारने का फरमान जारी कर दिया है।नारायणपुर आ कर ग्रामीणों ने अपनी जान तो बचा ली है लेकिन यहाँ ना उनको रहने के लिए कोई जगह मिल पा रही है और ना ही भोजन की कोई व्यवस्था है।

हालाँकि नारायणपुर एसपी मोहित गर्ग ने आश्वासन दिया है कि इनके रुकने और खाने का इंतजाम किया जाएगा।साथ ही इन्हें सरकारी योजनाओं का फायदा दिलाने की बात कही है।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned