लाइन में प्रेशर नही आने से पानी के लिए परेशान है आधा गांव

लाइन में प्रेशर नही आने से पानी के लिए परेशान है आधा गांव
Halfway to the water, the pressure in the line is unsettling for water

Amit Sharma | Updated: 27 May 2019, 01:24:46 PM (IST) Narsinghpur, Narsinghpur, Madhya Pradesh, India

लाइन में प्रेशर नही आने से पानी के लिए परेशान है आधा गांव

लाइन में प्रेशर नही आने से पानी के लिए परेशान है आधा गांव,फेल साबित हो रही नल जल योजना
तकनीकी समस्या के कारण शुरू नही हो पा रहा नया बोरबेल,पुराने भी बंद

 

नरसिंहपुर/करेली- करेली जनपद पंचायत के अंतर्गत आने वाली ग्राम पंचायत मोहद में इन दिनों पानी के लिए काफी परेशानी बनी हुई है। यहां एक ओर हाल ही तैयार किया गया सरकारी बोरवेल तकनीकी खराबी के कारण शुरू ही नही हो पा रहा है। वहीं नल जल योजना के तहत गांव में बिछाई गई अंडरग्राउंड पाइप लाइन में प्रेशर नही बन पाने के कारण गांव के लगभग आधे हिस्से में पानी की आपूर्ति सुनिश्चित नही हो पा रही है। जिसके चलते गांव में लाखों की लागत से शुरू की गई नल जल योजना लगभग फेल जैसी ही होकर रह गई है। परिणामस्वरूप गांव के लोग निजी तौर पर कुछ ट्यूबबेलों में जुगाड़ करके दीवारों और पेड़ों के सहारे प्लास्टिक का पाइप लाइन डालकर पानी का इंतजाम करने पर मजबूर हैं। यहां के ग्रामीणों ने बताया कि गांव में लगे अधिकांश हैंडपंप पाइपलाइन की कमी के कारण पानी की बजाय हवा फेक रहे हैं तो कई हैंडपंपों का आधा भाग गायब है। दर्जनों हैंडपंपों का नामोनिशान नहीं बचा है। शेष बचे हैंडपंपों में सुधार नहीं किया जाता जिसके कारण वे बंद पड़े हुए हैं। ग्रामीणों ने बताया कि पंचायत द्वारा की गई व्यवस्था नाकाफ ी साबित हो रही है। लोगों को पानी के लिए इधर उधर भटकना पड़ रहा है। न तो पंचायत द्वारा ग्रामीणों को पर्याप्त पानी उपलब्ध कराया जा रहा है और ना ही विभाग बंद पड़े हैंडपंपों में सुधार कर रहा है। बताया गया है यहां सार्वजनिक जलापूर्ति के लिए पूरे गांव में करीब ४४ हेंडपंप लगे हुए है,लेकिन उनमें से अधिकांश हेंडपंप इन दिनों अपनी क्षमता खत्म हो जाने के कारण हवा उगलने पर उतारू है,परिणामस्वरूप यहां की पूरी जलापूर्ति का भार महज १०-१२ हेंडपंपों पर आ गया है। इसी प्रकार गांव में कराये गये आधा दर्जन से अधिक ट्यूबबेल भी अनुपयोगी साबित हो रहे हैं।
दिन में मजदूरी रात को पानी का इंंतजाम
मोहद गांव में लगभग १५ वार्ड है, जिनमें से लगभग ४ वार्ड ऐसे है जिनमें गांव का मजदूर वर्ग निवास करता है। यहां के लोगों ने बताया कि ग्वाल मोहल्ला,हरिजन मोहल्ला सहित अन्य मजदूर बाहुल्य वाले क्षेत्रों में पानी की आपूर्ति सुनिश्चित न होने के कारण लोगों को दिन में मजूदरी करने के बाद रात को इधर उधर से पानी का इंतजाम करना पड़ता है। यहां सप्लाई लाइन में जलापूर्ति का प्रेशर इतना कम होता है कि जिनके घर पानी की टंकी चंद कदमों की दूरी पर बने है वहंा भी पानी नही पहुंच पा रहा है। बताया गया है कि पंचायत द्वारा चालू की जाने वाली सप्लाई के दौरान कई लोगों ने अपने घरों में लगे टुल्लू पंपों से पानी खींच लिया जाता है जिसके कारण लाइन का प्रेशर कम हो जाता है और पानी आगे नही बढ़ पाता।
अनुपयोगी साबित हो रहा टेंकर
ग्राम पंचायत में जलापूर्ति सुनिश्चित करने के लिए विधायक निधि से मुहैया कराया गया पानी का टैंकर भी अनुपयोगी होकर रह गया है। ग्रामीणों का आरोप है इस टेंकर का समुचित रखरखाव नही किये जाने के कारण इसकी हालत खराब हो गई है। बताया गया है कि टेंकर के दोनो टायर पूरी तरह से खराब हो चुके है,इसके अलावा टेंकर में लगी वाल्व भी खराब हो चुकी है। जिसके चलते यदि टेंकर को पानी भरने के लिए भेजा जाता है तो पानी के वजन के कारण पंचर होकर खड़ा हो जाता है और वाल्व खराब होने के कारण पानी बर्बाद हो जाता है।
इनका कहना है-
गांव की नल जल योजना के तहत बिछाई गई पाइप लाइन में प्रेशर नही आने के कारण गांव के अधिकांश हिस्से में पानी की आपूर्ति नही हो पा रही है। इसी तरह गांव के हेंडपंप और ट्यूबबेल भी बंद होकर रह गये है। पूरे गांव में पानी की काफी समस्या हो रही है। इसे लेकर अधिकारियों को अवगत कराया गया है लेकिन अभी तक कोई निराकरण नही हो सका है।
योगेंद्र सिंह चौहान,मोहद
गांव की पानी की सप्लाई के दौरान चालू होने वाले टुल्लु पंपों को रोकने के लिए बिजली विभाग को जलापूर्ति की समयावधि के दौरान एक घंटे लाइट बंद करने के लिए लिखा गया है। पानी की समस्या के निराकरण के लिए संबंधित विभाग को भी पत्र के माध्यम से कहा गया है।
बेनी पटैल, सरपंच ग्राम पंचायत मोहद

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned