scriptArvind Kejriwal announced to organize Sunderkand Owaisi got angry called small recharge of RSS | केजरीवाल के सुंदरकांड के ऐलान कराने पर भड़क गए ओवैसी, बताया- RSS का छोटा रिचार्ज | Patrika News

केजरीवाल के सुंदरकांड के ऐलान कराने पर भड़क गए ओवैसी, बताया- RSS का छोटा रिचार्ज

locationनई दिल्लीPublished: Jan 16, 2024 02:45:08 pm

Submitted by:

Prashant Tiwari

Arvind Kejriwal VS Asaduddin Owaisi: अरविंद केजरीवाल के सुंदरकांड का पाठ कराने के ऐलान के बाद ओवैसी ने विपक्ष पर पीएम मोदी के एजेंडे पर चलने का आरोप लगाया।

 Arvind Kejriwal announced to organize Sunderkand Owaisi got angry called small recharge of RSS


अयोध्या में नवनिर्मित राम मंदिर के उद्धाटन से पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में हर महिने सुंदरकांड पाठ का ऐलान किया है। आम आदमी पार्टी की तरफ से किया गया ऐलान ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी को पसंद नहीं आया है। उन्होंने आप प्रमुख को उनके इस फैसले पर जमकर घेरने के साथ ही उन्हें आरएसएस का छोटा रिचार्ज तक बता दिया। वहीं, औवैसी के इस बयान के बाद आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता और दिल्ली के स्वास्थय मंत्री सौरभ भारद्वाज ने पलटवार किया है।

 

संघ के एजेंडे का पूरा साथ दे रहे आरएसएस के छोटा रीचार्ज

अरविंद केजरीवाल के सुंदरकांड का पाठ कराने के ऐलान के बाद ओवैसी ने विपक्ष पर पीएम मोदी के एजेंडे पर चलने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा, “देश के मुसलमान और सेक्युलर सोच रखने वाले हिंदू देख लें कि किस तरह हिदुत्व की प्रतिस्पर्धा हो रही है। वहीं, उन्होंने अरविंद केजरीवाल का नाम लिए बिना निशाना साधा। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा,“बिल्किस बानो के मुद्दे पर चुप रहने वाले आरएसएस के छोटा रीचार्ज ने फैसला लिया है की दिल्ली की हर विधानसभा क्षेत्र में हर महीने के पहले मंगलवार को सुंदरकांड पाठ का आयोजन किया जाएगा। यह फैसला 22 जनवरी के उद्घाटन की वजह से लिया गया।

आपको याद दिला दूं के ये लोग ने बिल्किस बानो के मसले पर चुप्पी बनाई रखी थी और कहा था के वो सिर्फ शिक्षा और सेहत जैसे मसलों पर बात करना चाहते हैं। क्या सुंदरकांड पाठ शिक्षा है या सेहत? असल बात तो यही है के इन्हें इंसाफ से परहेज है। संघ के एजेंडे का पूरा साथ दे रहे हैं। हम बाबरी की बात भी ना करें, आप न्याय, मोहब्बत, फलाना का बाजा बजाते रहो और साथ में हिंदुत्व को मजबूत करते रहो। वाह!”

आप और बीजेपी-आरएसएस में कोई फर्क नहीं है

वहीं, हैदराबाद में पत्रकारों से मंगलवार को बात करते हुए ओवैसी ने अरविंद केजरीवाल और आम आदमी पार्टी पर जमकर निशना साधा। ऑउन्होंने कहा, 'मैंने जब यह देखा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री और उनकी सरकार ने तय किया है कि हर मंगलवार को वह सुंदरकांड और हनुमान चालीसा पढ़वाएंगे। इस पर मैंने कहा है कि आप लोग बीजेपी से कैसे अलग हैं। आप और बीजेपी-आरएसएस में कोई फर्क नहीं है।'

हिंदुत्व की प्रतिस्पर्धा हो रही

ओवैसी ने कहा, 'मैं फिर से कह रहा हूं कि इस देश में बहुसंख्यक वर्ग के वोट को कैसे हासिल किया जाए उसके लिए हिंदुत्व की प्रतिस्पर्धा हो रही है। मैं इस देश के मुसलमानों से अपील कर रहा हूं कि आप लोग देखिए। यह जो खेल हो रहा है इसमें क्या हो रहा है बताइए, हिंदुत्व की प्रतियोगिता की राजनीति को अपनाया जा रहा है। अभी भी इस देश में के सेक्युलर जेहन रखने वाले हमारे हिंदू भाई और मुसलमान इसको नोटिस नहीं लेंगे तो नुकसान किसका होगा? आपको शिकायत मुझसे होगी, बताइए इस पर क्या बोलेंगे आप, ये जो सारे तमाशे किए जा रहे हैं। क्या यह हिंदुत्व की प्रतियोगिता नहीं है, क्या यह बहुसंख्यक वर्ग के वोट को हासिल करने की कोशिश नहीं की जा रही हैं, कहां पर सेक्युलरिज्म दफन हो गया।"

 

भगवान हनुमान ओवैसी को आशीर्वाद दें: सौरभ भारद्वाज

ओवैसी के बयान पर दिल्ली के मंत्री और आप विधायक सौरभ भारद्वाज ने प्रतिक्रिया दी है। आप नेता ने कहा,"मुझे नहीं लगता कि मुझे उन्हें जवाब देना चाहिए। मैं भगवान हनुमान से प्रार्थना करूंगा कि वे भी उन्हें आशीर्वाद दें। किसी भी राजनीतिक दल को आपत्ति नहीं होनी चाहिए।" सुंदरकांड पाठ पाठ जैसे अच्छे कार्यक्रम पर। अगर वे आपत्ति जता रहे हैं तो यह ठीक नहीं है।''

ट्रेंडिंग वीडियो