scriptइस्लामी नेताओं ने कबूला असम के मदरसों में हो रही थी गड़बड़, डीजीपी बोले- सरकारी पोर्टल पर दर्ज होगी सभी डिटेल | Assam DGP says Leaders of Islamic community will monitor madrassas | Patrika News
राष्ट्रीय

इस्लामी नेताओं ने कबूला असम के मदरसों में हो रही थी गड़बड़, डीजीपी बोले- सरकारी पोर्टल पर दर्ज होगी सभी डिटेल

Control on Madrasas in Assam: मदरसों से आतंकवाद को बढ़ावा देने के कई मामले बीते कुछ दिनों में असम से सामने आए है। जिसके बाद राज्य सरकार मदरसों पर नकेल कसने की कोशिश में लगी है। अब असम डीजीपी ने बताया कि राज्य में इस्लामी नेता मदरसों की मॉनिटरिंग करेंगे।
 

Sep 18, 2022 / 02:08 pm

Prabhanshu Ranjan

photo_6141010601816732392_w.jpg

Assam DGP says Leaders of Islamic community will monitor madrassas

Control on Madrasas in Assam: असम में बीते कुछ दिनों से आतंकियों पर शिकंजा कसा जा रहा है। इस कड़ी में पुलिस ने आतंक को बढ़ावा देने वाले कई मदरसों पर बुलडोजर पर चलवाया है। साथ ही सरकार ने एक पोर्टल भी बनाया है, जिसपर राज्य में चलने वाले मदरसों की सभी डिटेल्स अपलोड की जाएगी। अब असम के डीजीपी भास्कर ज्योति महंत ने कहा कि इस्लामी समाज के नेता राज्य के मदरसों की मॉनिटरिंग करेंगे। वो इस बात पर नजर रखेंगे कि मदरसों में राष्ट्रविरोधी और आतंक को बढ़ावा देने का कोई काम न हो।

रविवार को एक समाचार एजेंसी से बात करते हुए असम डीजीपी भास्कर ज्योति महंत ने कहा कि इस्लामी समाज के नेता मदरसों की मॉनिटरिंग करेंगे। इन लोगों ने यह स्वीकार किया है कि राज्य में कई मदरसों सही से संचालित नहीं किया जा रहे हैं। मदरसों से जुड़ी डिटेल्स सरकार द्वारा बनाए गए पोर्टल पर अपलोड की जाएगी।

 

https://twitter.com/ANI/status/1571406587398619137?ref_src=twsrc%5Etfw


असम डीजीपी ने आगे बताया कि भारतीय वीजा नियम को तोड़ने के आरोप में 17 बांग्लादेशी नागरिकों को गिरफ्तार किया गया है। ये सभी बाघमारी इलाके से गिरफ्तार किए गए। डीजीपी ने बताया कि पकड़े गए सभी बांग्लादेशी नागरिक टूरिस्ट वीजा पर भारत आए थे लेकिन भारत में धार्मिक उपदेश दिया करते थे। इससे पहले असम के पुलिस महानिदेशक भास्कर ज्योति महंत ने राज्य भर के विभिन्न इस्लामी संगठनों से मुलाकात कर मदरसों की देखरेख में उनका समर्थन मांगा था।

यह भी पढ़ें – असम में मदरसों को अब अपने नियमों को ऑनलाइन करना होगा अपलोड

https://twitter.com/ANI/status/1571406260188368897?ref_src=twsrc%5Etfw


तब डीजीपी ने कहा कि हम राज्य भर में इस्लामी संगठनों से मिले और उनसे मदद मांगी। उनके सहयोग के बिना, हम राज्य में अल-कायदा और एबीटी मॉड्यूल का भंडाफोड़ नहीं कर सकते। हमने उनसे अपना समर्थन और सहयोग देने का आग्रह किया और उन्होंने हमें अपने समर्थन का आश्वासन भी दिया है। डीजीपी ने बताया कि हमें जानकारी मिली है कि कुछ आतंकवादी धार्मिक शिक्षकों के वेश में राज्य में घुस आए थे और चुपचाप अपनी विध्वंसक और राज्य विरोधी गतिविधियों में आगे बढ़ गए थे।

Hindi News/ National News / इस्लामी नेताओं ने कबूला असम के मदरसों में हो रही थी गड़बड़, डीजीपी बोले- सरकारी पोर्टल पर दर्ज होगी सभी डिटेल

ट्रेंडिंग वीडियो