तमाम राज्यों के पास बिना इस्तेमाल की हुईं 8.43 करोड़ कोरोना वैक्सीन का स्टॉक

देश में कोरोना वायरस वैक्सीनेशन की तेज रफ्तार के बावजूद अभी भी तमाम राज्यों-केंद्र शासित प्रदेशों के पास करीब 8.43 करोड़ खुराक यो ही पड़ी हुई हैं।

 

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस वैक्सीन की 8.43 करोड़ खुराक अभी भी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के पास उपलब्ध हैं, जिन्हें अभी इस्तेमाल किया जाना बाकी है। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने सोमवार को यह जानकारी दी।

मंत्रालय ने आगे कहा कि राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को अब तक 96,75,07,995 वैक्सीन खुराक मुफ्त चैनल के माध्यम से और प्रत्यक्ष राज्य खरीद श्रेणी के माध्यम से प्रदान की गई हैं। वहीं, 8.43 करोड़ (8,43,17,810) से अधिक बची और बिना इस्तेमाल की गईं COVID वैक्सीन खुराक अभी भी राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों के पास उपलब्ध हैं, जिन्हें लोगों को लगाया जाना बाकी है।

केंद्र सरकार पूरे देश में COVID-19 टीकाकरण की गति को तेज करने और इसके दायरे का विस्तार करने के लिए प्रतिबद्ध है। देश में COVID-19 टीकाकरण को सभी के लिए जारी किए जाने का नया चरण 21 जून से शुरू हुआ था।

corona_vaccine.jpg

टीकाकरण अभियान को और अधिक टीकों की उपलब्धता, राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के लिए वैक्सीन उपलब्धता की पहले से ही जानकारी के माध्यम से उनके द्वारा बेहतर योजना बनाने और वैक्सीन आपूर्ति श्रृंखला को सुव्यवस्थित करने के माध्यम से तेज किया गया है।

राष्ट्रीय टीकाकरण अभियान के अंतर्गत केंद्र सरकार राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को मुफ्त में कोविड वैक्सीन देकर उनकी सहायता कर रही है। कोरोना टीकाकरण अभियान के वृहत हिस्से के नए चरण के रूप में केंद्र सरकार देश में वैक्सीननिर्माताओं द्वारा तैयार की जाने वाली 75 फीसदी वैक्सीन को राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को मुफ्त में दे रही है।

बता दें कि देश में एक-दो माह से कोरोना टीकाकरण की रफ्तार में तेजी आई है। पिछले माह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन पर ही 17 सितंबर को पूरे देश में एक दिन में 2.50 करोड़ से ज्यादा का टीकाकरण किया गया। यह पूरी दुनिया में एक दिन में सर्वाधिक कोरोना वैक्सीन लगाने का रिकॉर्ड था।

इसके साथ ही देश ने इस वर्ष के अंत तक देश की कोरोना टीके लिए अर्ह पूरी आबादी के टीकाकरण की योजना बनाई है। इसके अंतर्गत केंद्र सरकार ने अक्टूबर के प्रथम सप्ताह तक देश में कोरोना के टीकाकरण का आंकड़ा 100 करोड़ पूरा करने का लक्ष्य रखा था, जो अभी तक पूरा नहीं हो सका है।

अमित कुमार बाजपेयी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned