तनाव घटाने के लिए भारत और चीनी सेनाओं ने किया संयुक्त अभ्यास, पाकिस्तान प्रेम को लेकर रिश्तों में है खिंचाव

तनाव घटाने के लिए भारत और चीनी सेनाओं ने किया संयुक्त अभ्यास, पाकिस्तान प्रेम को लेकर रिश्तों में है खिंचाव
india china army

balram singh | Publish: Oct, 19 2016 11:28:00 PM (IST) राष्ट्रीय

"भारत-चीन सहयोग 2016" के अंतर्गत दोनों देशों के सैनिकों के बीच यह दूसरा संयुक्त अभ्यास था। इससे पूर्व छह फरवरी को पूर्वी लद्दाख के चूसुल गैरिसन में अभ्यास हुआ था।

लद्दाख और अरुणाचल प्रदेश में समय-समय पर चीनी सैनिकों के सीमा का अतिक्रमण कर घुसपैठ करने से होने वाले तनाव को घटाने के लिए भारत और चीनी सेना ने बुधवार को लद्दाख में संयुक्त सैन्य सहयोग अभ्यास किया। पाकिस्तानी प्रेम की अंधभक्ति की वजह से चीन के साथ भारत का संबंध तनावपूर्ण चल रहा है।


"भारत-चीन सहयोग 2016" के अंतर्गत दोनों देशों के सैनिकों के बीच यह दूसरा संयुक्त अभ्यास था। इससे पूर्व छह फरवरी को पूर्वी लद्दाख के चूसुल गैरिसन में अभ्यास हुआ था।


गौरतलब है कि भारत औऱ पाकिस्तान के बीच चल रहे विवाद की वजह से चीन के भारत के संबंध तनाव चल रहे हैं। इसकी वजह भी साफ है और सही है। क्योंकि चीन हमेशा पाकिस्तान का पक्ष लेता रहता है। 

 

आपको बता दें कि लद्दाख और अरुणाचल से लगी सीमा पर दोनों देशों के बीच चीनी सैनिकों के अतिक्रमण को लेकर तनाव गहराते रहे हैं। चीन हमेशा भारत के कुछ हिस्सो पर अपना हक जताता रहता है। इसी को लेकर कई बार दोनों देशों की सेनाएं आमने सामने हो जाती हैं।


इस तनाव को रोकने के लिए ही दोनों देशों ने 2013 में सीमा रक्षा सहयोग का एक समझौता किया था। ताकि सीमा पर तनातनी के माहौल को घटाया जा सके। चीनी सैनिकों के साथ भारतीय सैनिकों का सैन्य सहयोग अभ्यास इसी का हिस्सा है।


इस अभ्यास में भारतीय सेना की तरफ से ब्रिगेडियर आरएस रमन और चीन की ओर से वरिष्ठ कर्नल फान जून ने अपनी-अपनी सैन्य टुकड़ी का नेतृत्व किया। 

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned