scriptindia us military exercise in uttarakhand auli in october amid chinese tension | चीन बॉर्डर के पास भारत और अमरीका की सेनाएं करेंगी युद्धाभ्यास, जानिए क्या है प्लान | Patrika News

चीन बॉर्डर के पास भारत और अमरीका की सेनाएं करेंगी युद्धाभ्यास, जानिए क्या है प्लान

चीन के साथ तनाव के बीच भारतीय व अमरीकी सेनाएं अक्टूबर में उत्तराखंड के औली में LAC (वास्तविक नियंत्रण रेखा) के पास युद्धाभ्यास करेंगी। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार यह युद्धाभ्यास 14 से 31 अक्टूबर के बीच होगा, जिसका मुख्य उद्देश्य दोनों देशों की सेनाओं के बीच सहयोग, समझ को बढ़ना है।

नई दिल्ली

Published: August 04, 2022 11:09:46 am

भारत और चीन के बीच LAC (वास्तविक नियंत्रण रेखा) पर पहले से ही गतिरोध जारी है, जिसे कम करने के लिए कई दौर की बैठकें हो चुकी हैं। इसी बीच ताइवान को लेकर चीन और अमरीका के बीच तनाव बढ़ गया है। दरअसल अमरीका और चीन के बीच यह तनाव अमरीकी स्पीकर नैंसी पेलोसी की ताइवान यात्रा को लेकर बढ़ा है। चीन ने नैंसी पेलोसी की इस यात्रा का विरोध किया, जिसके बाद भी अमरीकी स्पीकर ने ताइवान की यात्रा की। इस यात्रा को लेकर चीन ने अमरीका को धमकी तक दे दी वहीं अमरीका ने भी चीन को शख्त हिदायत दी है।
india-us-military-exercise-in-uttarakhand-auli-in-october-amid-chinese-tension.jpg
Armies of India and America will exercise near China border, know what is the plan
इसी बीच भारत और अमरीका के बीच अक्टूबर में उत्तराखंड के औली में LAC (वास्तविक नियंत्रण रेखा) के पास युद्धाभ्यास होगा। दोनों देशों के बीच यह 18वें संस्करण की मिलिट्री एक्सरसाइज होगी। प्राप्त जानकारी के अनुसार दोनों देशों के बीच साल में एक बाद युद्धाभ्यास होता है, जो एक साल अमरीका में तो दूसरे साल भारत में किया जाता है।

दोनों देशों के बीच रक्षा और सहयोग को लेकर हैं समझौते

न्यूज एजेंसी के मुताबिक अमरीका और भारत के बीच पिछले कुछ सालों से रक्षा, सुरक्षा और सहयोग को लेकर समझौते किए गए हैं। इस समझौते में लॉजिस्टिक्स एक्सचेंज मेमोरेंडम ऑफ एग्रीमेंट (LEMOA) शामिल है, जो 2016 में किया गया है। यह समझौता दोनों देशों की सेनाओं को हथियारों की मरम्मत और एक-दूसरे के ठिकानों की यूज की अनुमति देता है। इसके साथ ही दोनों देशों की सेनाओं के बीच 2018 में कम्युनिकेशंस कंपेटिबिलिटी एंड सिक्योरिटी एग्रीमेंट (COMCASA) समझौते पर भी हस्ताक्षर किए गए हैं, जो दोनों देशों की सेनाओं के बीच उच्च तकनीक शेयर करने की अनुमति देता है।

पिछले साल सितंबर में चीनी सेनाओं ने की थी नापाक हरकत

भारत और अमरीका के बीच यह युद्धाभ्यास इसलिए महत्वपूर्ण है क्योंकि पिछले साल उत्तराखंड के बाराहोती क्षेत्र में चीनी सैनिकों ने नापाक हरकत की थी। चीनी सैनिकों ने उकसावे वाली हरकत करते हुए भारतीय सीमा के 5 किलोमीटर अंदर घुस आए थे, जिसको लेकर भारत की ओर से चीन को कड़े शब्दों में चेतावनी दी गई थी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

ड‍िप्‍टी सीएम मनीष स‍िसोद‍िया के यहां CBI की रेड के बाद LG का बड़ा आदेश, 12 IAS अफसरों का ट्रांसफरमनीष सिसोदिया के घर समेत 31 जगहों पर रेड, 17 अगस्त को ही दर्ज हुई थी FIR, CBI ने जारी की पूरी डीटेलउपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के आवास पर CBI की छापेमारी के बाद आम आदमी पार्टी ने किया ऐलान - '2024 में मोदी Vs केजरीवाल'Kerala News: मुस्लिम लीग के महासचिव का विवादित बयान, बोले- 'लड़के-लड़कियों का स्कूल में साथ बैठना खतरनाक'मथुरा से लाइव..ब्रज में जन्मे कृष्ण-कन्हाई, हर घर गूंजी बधाईENG vs SA: दक्षिण अफ्रीका ने लॉर्ड्स पर दर्ज की ऐतिहासिक जीत, इंग्लैंड को पारी और 12 रन से हरायाVIDEO : Tractor-Trailer Accident : जातरूओं से भरे ट्रैक्टर से टकराया ट्रेलर, छह जातरूओं की मौतjanmashtami 2022: खाटूश्यामजी में लगा भक्तों का रैला, दर्शनों के लिए देशभर से पहुंच रहे श्रद्धालु
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.