script 8 दिसंबर को बड़ा फैसला लेगी मोदी सरकार! सभी सांसदों को उपस्थित रहने का आदेश | modi government can take big decision on 8 decembder in parliament issued line whip to all mps | Patrika News

8 दिसंबर को बड़ा फैसला लेगी मोदी सरकार! सभी सांसदों को उपस्थित रहने का आदेश

locationनई दिल्लीPublished: Dec 07, 2023 08:31:49 pm

Submitted by:

Paritosh Shahi

जैसे ही बीजेपी ने अपने सभी सांसदों को 8 दिसंबर को लोकसभा में उपस्थित रहने के लिए व्हिप जारी किया उसके बाद से कयासों का दौर शुरू हो गया है।

modi_nadda_shah.jpg

राज्यसभा और लोकसभा में संसद के शीतकालीन सत्र की शुरुआत से ही सत्ताधारी दल और विपक्ष के बीच हर मुद्दे पर बहस जारी है। बुधवार 6 दिसम्बर को लोकसभा में गृह मंत्री अमित शाह द्वारा पेश किए गए जम्मू और कश्मीर आरक्षण (संशोधन) विधेयक, 2023 और जम्मू और कश्मीर पुनर्गठन विधेयक, 2023 पर चर्चा हुई। बिल पेश करने के दौरान अमित शाह ने विपक्ष पर जमकर हमला बोला और उन्होंने जम्मू कश्मीर के बिगड़े हालात के लिए पूर्व पीएम जवाहर लाल नेहरु को जिम्मेदार ठहराया। जैसे ही उन्होंने नेहरू पर सवाल उठाया विपक्षी पार्टियों ने सदन से वाकआउट कर दिया। इसी बीच खबर आ रही है कि बीजेपी एक बार फिर से कोई बड़ा फैसला लेने जा रही है। जिसके लिए पार्टी ने सभी सांसदों को संदेश भी भेज दिया है।


बीजेपी ने जारी किया व्हिप

बीजेपी ने लोकसभा के अपने सभी सांसदों को 8 दिसंबर 2023 यानी शुक्रवार के दिन सदन में हाजिर रहने के लिए व्हिप जारी किया है। बीजेपी से जुड़े सूत्रों की मानें तो ये व्हिप काफी महत्वपूर्ण है। जम्मू और कश्मीर आरक्षण (संसोधन ) बिल पेश होने के बाद खबर है कि 8 दिसंबर को मोदी सरकार लोकसभा में किसी महत्वपूर्ण विधायी कार्यों पर चर्चा की जाएगी। इस दौरान सदन में सरकार के रुख का समर्थन करने के लिए ही सभी सांसदों को व्हिप जारी किया गया है।

कल पीओके पर क्या बोले थे शाह

कल जम्मू और कश्मीर आरक्षण (संसोधन ) बिल पेश करने के दौरान अमित शाह ने कहा, "परिसीमन की जो सिफारिश है उसको कानूनी जामा पहनाकर आज इसे संसद के सामने रखा है। दो सीटें कश्मीर विस्थापितों के लिए आरक्षित होंगी। एक सीट पीओके के विस्थापित व्यक्तियों के लिए दी जाएगी। परिसीमन आयोग की सिफारिश के पहले जम्मू में 37 सीटें थीं जिसे अब 43 कर दी गई हैं। कश्मीर में पहले 46 सीटें थी अब 47 हुई है। पीओके की 24 सीटें हमने रिजर्व रखी है क्योंकि वो हिस्सा हमारा है। जम्मू-कश्मीर विधानसभा में पहले 107 सीटें थीं जो अब बढ़कर 114 हो गई हैं। पहले दो नामांकित सदस्य हुआ करते थे अब पांच सदस्य होंगे।"

ट्रेंडिंग वीडियो