scriptNarendra Modi Government Sell Rice At Discounted Rate Like Bharat Atta Before Loksabha Election | लोकसभा चुनाव से पहले 25 रुपए प्रति किलो चावल बेंचेगी मोदी सरकार, जानिए कब, कहां और कैसे कर सकते हैं खरीददारी? | Patrika News

लोकसभा चुनाव से पहले 25 रुपए प्रति किलो चावल बेंचेगी मोदी सरकार, जानिए कब, कहां और कैसे कर सकते हैं खरीददारी?

locationनई दिल्लीPublished: Dec 28, 2023 03:41:54 pm

Submitted by:

Anand Mani Tripathi

Loksabha Election : लोकसभा चुनाव से पहले मोदी सरकार आम आदमी को बड़ा तोहफा देने जा रही है। अब सरकार आम लोगों को सस्ती दाल और रोटी के बाद चावल भी बेचेंगी।

narendra_modi_government_sell_rice_at_discounted_rate_like_bharat_atta_before_loksabha_election__1.png

Loksabha Election : लोकसभा चुनाव से पहले मोदी सरकार आम आदमी को बड़ा तोहफा देने जा रही है। अब सरकार आम लोगों को सस्ती दाल और रोटी के बाद चावल भी बेचेंगी। इसके लिए भारत ब्रांड नाम से चावल लांच किया जाएगा। इसकी कीमत 25 रुपए प्रतिकिलो होगी। चावल को सरकारी दुकानों के माध्यम से बेचा जाएगा। केंद्रीय उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया है कि भारत ब्रांड का चावल बेचने की जिम्मेदारी नाफेड, एनसीसीएफ और केंद्रीय भंडार जैसे संगठनों को दी जाएगी। कोशिश की जा रही है कि इस चावल को पैक कर राशन डीलरों के जरिए भी बिकवाया जाए।

पांच से दस किलो का पैक
एनसीसीएफ के एक अधिकारी ने बताया कि भारतीय खाद्य निगम से सस्ते चावल की सप्लाई होगी। चावल की पैकिंग कितने किलो की होगी, इसे लेकर फिलहाल फैसला नहीं हुआ है। सरकार के निर्देशों के बाद चावल की पैकिंग की जाएगी। यह एक किलो, दो किलो, पांच किलो और दस किलो में हो सकती है।

टमाटर से लेकर आटा तक बेंच रही सरकार
सरकार ने महंगाई पर लगाम लगाने के लिए पहले भारत ब्रांड के तहत सस्ता आटा, दाल, प्याज-टमाटर बेचे हैं। केंद सरकार ने 6 नवंबर 2023 को भारत आटा लॉन्च किया था। लोगों को 27.50 रुपए प्रति किलो के दर से सस्ता आटा मिल रहा है। इसी तरह सरकार 60 रुपए प्रति किलो के भाव से भारत दाल बेच रही है।

बढ़ रही है कीमत
देश में कुछ समय से चावल की कीमतों में बढ़ोतरी हो रही है। इस साल चावल की कीमतों में 14.1% की तेजी देखने को मिली है। बिना ब्रांडेड चावल की कीमत औसतन 43.3 रुपए प्रति किलो तक पहुंच गई है। चावल के दामों में तेजी को नियंत्रित करने के लिए सरकार ने भारत ब्रांड के तहत सस्ता चावल बेचने का फैसला किया।

ट्रेंडिंग वीडियो