script विपक्ष हमेशा विपक्ष में ही रहेगा, इस मकसद से हो रहा एकजुट, PM मोदी ने I.N.D.I.A पर बोला हमला | pm modi attacks congress said opposition will always remain in opposition india alliance | Patrika News

विपक्ष हमेशा विपक्ष में ही रहेगा, इस मकसद से हो रहा एकजुट, PM मोदी ने I.N.D.I.A पर बोला हमला

locationनई दिल्लीPublished: Dec 19, 2023 05:44:15 pm

Submitted by:

Paritosh Shahi

13 दिसंबर को संसद में हुई सुरक्षा चूक का समर्थन करने को लेकर पीएम मोदी ने विपक्ष पर निशाना साधा।

pm_modi_1.jpg

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज पिछले हफ्ते संसद की सुरक्षा में हुई चूक का समर्थन करने वाली विपक्षी पार्टियों पर निशाना साधते हुए कहा कि यह विपक्षी पार्टियों की हताशा को साफ-साफ दिखाता है। भाजपा संसदीय दल की बैठक में पीएम मोदी ने यह बयान दिया। पीएम मोदी ने विपक्षी गठबंधन इंडी गठबंधन में शामिल घटक दलों के प्रमुख नेताओं की मंगलवार को नई दिल्ली में हुई बैठक पर भी निशाना साधा और कहा कि ये सभी सिर्फ भाजपा को सत्ता से हटाने के लिए एकजुट हो रहे हैं, लेकिन सच्चाई यह है कि विपक्ष हमेशा विपक्ष में ही रहेगा।


निलंबन पर विपक्षी नेताओं ने क्या कहा

विपक्षी सांसदों निलंबन पर सपा सांसद डिंपल यादव ने कहा, "आज लगभग 40 से ज्यादा सांसद निलंबित हुए हैं। कल भी लोकसभा और राज्यसभा में मिलाकर 80 से ज्यादा सांसद निलंबित हुए। यह लोकतांत्रिक व्यवस्था के लिए दुर्भाग्यपूर्ण है। जो वातावरण हम देख रहे हैं, जहां हम संसद में अपनी बात नहीं रख पा रहे हैं वह सरकार की पूरी विफलता को दर्शाता है।"

कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी ने कहा, "यह संसद के अंदर अराजकता के अलावा और कुछ नहीं है...उन्हें हमारे देश की संसदीय प्रणाली पर रत्ती भर भी भरोसा नहीं है। इसलिए संसद में अराजकता, अराजकता और अराजकता के अलावा कुछ नहीं है।"

कांग्रेस नेता सुप्रिया श्रीनेत ने कहा, "ये बड़ी निर्णायक बैठक है और इसके पहले भी जो इंडिया गठबंधन की बैठक हुई है वो महत्वपूर्ण बैठक हुई है। एक मंच पर देश के विपक्ष का आना मायने रखता है, आज के वक्त में जब 141 विपक्षी सांसदों को मनमाने ढंग से निरकुंश सत्ता के चलते सस्पेंड कर दिया गया है, मुझे लगता है कि मोदी जी ऐसा और करते रहें और हम सब एक साथ और आते रहेंगे। जिस तरह से विपक्षी सांसदों का सस्पेंशन हुआ है, बेरोजगारी है और संसद में जो चूक हुई है इन सभी मुद्दों पर आज चर्चा होगी।"

समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा, "यह सरकार सही बात सुनना नहीं चाहती है। भाजपा से यह पूछना चाहिए कि वे लोकतंत्र का मंदिर बोलते हैं। हम सब अपने भाषणों में लोकतंत्र का मंदिर कहते हैं। ये किस मूंह से इसे लोकतंत्र का मंदिर कहते हैं, जब ये विपक्ष को बाहर कर रहे हैं। अगर ये दूसरी बार सरकार में आ गए तो यहां बाबासाहेब अंबेडकर का संविधान नहीं बचेगा।"


ट्रेंडिंग वीडियो