scriptPM Narendra Modi Become First Prime Minister Taken Sortie In A Indigenous Fighter Jet Tejas In HAL Bengaluru Know Speed Range Features Variants Specifications | Indian Air Force : पीएम नरेंद्र मोदी ने तेजस में भरी 45 मिनट उड़ान, स्वदेशी विमान में उड़ने वाले पहले प्रधानमंत्री | Patrika News

Indian Air Force : पीएम नरेंद्र मोदी ने तेजस में भरी 45 मिनट उड़ान, स्वदेशी विमान में उड़ने वाले पहले प्रधानमंत्री

locationनई दिल्लीPublished: Nov 25, 2023 12:36:32 pm

Submitted by:

Anand Mani Tripathi

PM Flies In Tejas: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारतीय वायु सेना के तेजस विमान में शनिवार को उड़ान भरी। इसके साथ ही वह पहले ऐसे प्रधानमंत्री बन गए हैं जिन्होंने भारत के स्वदेशी विमान में पहली उड़ान भरी है।

pm_narendra_modi_sortie_on_tejas_aircraft_bengaluru_.png

PM Flies In Tejas: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारतीय वायु सेना के तेजस विमान में शनिवार को उड़ान भरी। इसके साथ ही वह पहले ऐसे प्रधानमंत्री बन गए हैं जिन्होंने भारत के स्वदेशी विमान में पहली उड़ान भरी है।प्रधानमंत्री ने 45 मिनट तक तेजस में उड़ान भरी वह सहायक पायलट की सीट पर पायलट के ठीक पीछे बैठे थे। इसी सीट पर बैठा पायलट दुश्मनों को तबाह करने का काम करता है। उसके पास ही दुश्मनों पर निशाना साधने का काम होता है।
। हालांकि इस सीट से भी विमान को उड़ाया जा सकता है लेकिन प्रमुख रूप से दुश्मनों को निशाना बनाने का काम ही पीछे बैठे पायलट के पास होता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को बेंगलुरु में युद्धक विमान तेजस जेट की सुविधा सहित उसकी मैन्युफैक्चरिंग फैसिलिटी की समीक्षा करने पहुंचे थे। इसे हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड ने 615 एकड़ में फैले परिसर में बनाया है। यहां से अब पीएम मोदी तेलंगाना में जनसभा करने जाएंगे।


ये है तेजस की खासियत

  • हर मौसम में सबसे उम्दा प्रदर्शन
  • सबसे आधुनिक कॉकपिट सिस्टम से लैस
  • मल्टीरोल फाइटर विमान है तेजस
  • 02 पायलट सीट वाला फाइटर जेट
  • 4.5 जेनरेशन का विमान है तेजस
  • 6,500 किलोग्राम का है यह विमान
  • 10 टारगेट एक साथ कर सकता है तबाह
  • 08 टन तक का हथियार कर सकता है कैरी
_mint_pm_narendra_modi_said_after_sortie_on_tejas_aircraft_in_bengaluru.png


उड़ान के बाद पीएम मोदी ने क्या कहा...

"मैं आज तेजस में उड़ान भरते हुए अत्यंत गर्व के साथ कह सकता हूं कि हमारी मेहनत और लगन के कारण हम आत्मनिर्भरता के क्षेत्र में विश्व में किसी से कम नहीं हैं। भारतीय वायुसेना, DRDO और HAL के साथ ही समस्त भारतवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं"

f_wvlp1xkaas4ap.jpg

ट्रेंडिंग वीडियो