मंडी व्यापारियों पर खाद्य सुरक्षा विभाग की दबिश, मंडी में मचा हडकंप

मंडी व्यापारियों पर खाद्य सुरक्षा विभाग की दबिश, मंडी में मचा हडकंप

नीमच। आयुक्त, खाद्य सुरक्षा मध्य प्रदेश द्वारा नीमच जिले में जांच दल गठित कर विभिन्न प्रतिष्ठानों पर जांच हेतु 5 सदस्य खाद्य सुरक्षा अधिकारियों का दल नीमच शहर में भेजा गया। खाद्य सुरक्षा विभाग की स्पेशल टीम ने शुक्रवार को शहर के दो प्रतिष्ठानों पर छापामार कार्रवाई की। जिसके बाद मंडी व्यापारियों में हडकंप मच गया, यहां तक की मंडी व्यापार संघ अध्यक्ष राकेश भारद्वाज मौके पर जेतपुरा रोड पहुंच गए और कार्रवाई का विरोध किया। वहीं इन कार्रवाई के विरोध में मंगलवार से मंडी बंद करने की भी घोषणा की है।

 

धार के मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी सचिन लोगरिया ने बताया कि उक्त दल के द्वारा सबसे पहले निलेश कुमार गौरव कुमार नामक फ र्म पर जांच की गई जो लक्ष्मी मंगल वेयर हाउस के पीछे थी। उक्त फ र्म के संचालक गौरव कुमार बावेचा थे । मौके पर मेथी व अलसी क्लीन होता हुआ पाया गया। वहां से मेथी के 2 नमूने, गेहूं का एक नमूना, अलसी का एक नमूना सोयाबीन तेल मौके पर कुछ मात्रा में था। उसका भी नमूना लिया गया। इस प्रकार कुल 19 हजार 400 किलोग्राम खाद्य सामग्री मानक होने की शंका में जप्त की गई है। जिसका कुल मूल्य 5 लाख 62 हजार रुपए है। वहीं दूसरी कार्रवाई एचपी ट्रेडर्स मालखेड़ा चौराहा स्थित पर की गई है। इस फ र्म के प्रोपराइटर हरीश कुमार लालवानी है, मौके से जांच दल ने तीन नमूने जांच के लिए गए। जिसमें कलौंजी, अजवाइन के 2 नमूने लिए गए और 6 हजार 170 किलोग्राम माल जप्त किया गया है। जिसका कुल मूल्य 2 लाख 62 हजार 600 रुपए है। इस तरीके के द्वारा कार्रवाई अन्य स्थानों पर भी की जाएगी।

गलत हो रही है कार्रवाई
शहर में खाद्य विभाग की गलत तरीके से कार्रवाई हो रही है। व्यापारी ने मंडी से माल उठाया है, उसकी छनाई होती है और स्टेंर्ड का बनाया जाता है। लेकिन यह मंडी से उठाए माल की सैंपलिंग सीधे कर रहें है, जो कि उचित कार्रवाई नहीं है। जिससे मंडी व्यापारी में आक्रोश है और एेसा चलता रहा तो मंगलवार से मंडी अनिश्चितकाल के लिए बंद कर दी जाएगी।
- राकेश भारद्वाज, अध्यक्ष कृषि उपज मंडी व्यापार संघ नीमच

Virendra Rathod Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned