यहां ऐसा क्या है जो कूद कूद कर आगे बढ़ते हैं लोग

-कागजों में स्वीकृत सड़क, धरातल पर गड्ढे
-मूलचंद्र मार्ग सहित ईदगाह रोड के हाल हुए खस्ता
-बारिश बंद होने के बावजूद कई दिनों तक बना रहता है कीचड़

By: harinath dwivedi

Published: 19 Aug 2018, 11:11 PM IST

नीमच. अगर आप मूलचंद्र मार्ग से निकल रहे हैं तो थोड़ा संभल कर जरूर चलिऐगा। क्योंकि हर चार कदम पर हो रहे गड्ढों में भरा बारिश का पानी और खुदी हुई सड़क पर कीचड़ होने से यह राह फिसलन भरी हो चुकी है। ऐसे में जरा सी लापरवाही से आपको काफी कष्ट झेलने पड़ सकते हैं। क्योंकि सड़क निर्माण कागजों में स्वीकृत होने के बावजूद भी जिम्मेदारों द्वारा इस ओर बिल्कुल ध्यान नहीं दिया जा रहा है।
यह हम नहीं कह रहे हैं। यह हालात खुद मूलचंद्र मार्ग की वह सड़क बयां कर रही है जो खुद करीब ५ वार्डो को जोड़ती है। इस सड़क से प्रतिदिन हजारों की संख्या में लोग आवाजाही करते हैं। लेकिन सड़क की जर्जरता के कारण वे सिर्फ अपने नसीब को कौसकर रह जाते हैं। क्योंकि सालों से जर्जर इस सड़क पर जिम्मेदारों की निगाह नहीं है। जबकि कागजों में यह सड़क लंबे समय पहले ही स्वीकृत हो चुकी है।

पत्रिका ने शनिवार को मूलचंद्र मार्ग सड़क पर जैसे ही नजर डाली तो हालात आश्चर्य जनक नजर आए। सड़क जहां से शुरू होती है वहां से लेकर अंत तक हर चार कदम पर गड्ढों का अंबार लगा हुआ है। गड्ढे भी इतने की व्यक्ति जैसे ही एक गड्ढे से बचकर निकले, दूसरा गड्ढा सामने आ जाता है। ऐसे में यह भय बना रहता है कि कहीं गिर न जाए। यहां के रहवासियों ने बताया कि इस सड़क पर हो रहे गड्ढों के बारे में जब भी जिम्मेदारों को अवगत कराते हैं पेंच वर्क के स्थान पर केवल सफेद गिट्टी डालकर इतिश्री कर लेते हैं। यह गिट्टी जब भी दो पहिया या चारपहिया वाहन निकलते हैं। उनके टायरों के नीचे आकर उछटने के कारण लोगों को घायल कर देती है। आए दिन यहां सड़क की जर्जरता के कारण हादसे हो रहे हैं। लेकिन जिम्मेदारों का ध्यान नहीं है।

तीन दिन बाद ईद, ईदगाह रोड पर दलदल
मूलचंद्र मार्ग से वार्ड क्रमांक15-16-19-21-22 आदि वार्ड जुड़े हैं। इस लंबी चौड़ी सड़क पर कई स्कूलों और मुख्य बाजार पहुंचने के भी कई रास्ते हैं। इस कारण इस मार्ग पर दिनभर में हजारों लोग आवाजाही करते हैं। इसी मार्ग से ईदगाह पहुंचने का रास्ता भी है। लेकिन वह भी खस्ता हाल हो रही है। अंबेडकर कॉलोनी पहुंच मार्ग से लेकर ईदगाह पहुंचने तक के रास्ते पर गड्ढों की भरमार के कारण जगह जगह दलदल हो चुका है। ऐसे में तीन दिन बाद ईद भी आने वाली है।
यह सड़क पिछले १५ सालों से नहीं बनी है। जब भी यहां हो रहे गड्ढों के बारे में नपा अधिकारियों को बताते हैं तो केवल सूखी गिट्टी डाल देते हैं। जिसके कारण हालात और भी खराब हो जाते हैं। कुछ दिन पहले इसी रोड पर मेरी भतिजी का एक्सीडेंट भी हुआ था। जिसे उपचार के लिए उदयपुर रेफर करना पड़ा।
-शेरू कुरैशी, रहवासी, मूलचंद्र मार्ग
ईद का त्यौहार सामने है ऐसे में न मूलचंद्र मार्ग के गड्ढों का सुधार हुआ है ओर न ही ईदगाह रोड का। ईदगाह रोड से लेकर ईदगाह तक पूरा रोड दलदल से भरा हुआ है। ऐसे में ईद पर नमाज पढऩे जाने वालों को भी काफी दिक्कत होगी। यहां एक साईड नालियां नहीं बनने के कारण सड़क पर भरा बारिश का पानी नहीं निकल पाता है। जिससे हरदम कीचड़ और गदंगी बनी रहती है।
-मोहम्मद सद्दाम, रहवासी, मूलचंद्र मार्ग
वर्जन.
मूलचंद्र मार्ग रामेश्वर होटल से लेकर शंकर आयल मिल तक वर्ष 2013.14 में ही स्वीकृत हो चुका है। जिसके वर्क आर्डर भी जारी हो चुके हैं। ठेकेदार भी काम करने को तैयार है लेकिन सीवर लाईन नहीं डलने के कारण सड़क का काम शुरू नहीं हो रहा है। इस रोड को बनवाने में हम भी प्रयासरत हैं। पहले इस मार्ग पर सीवरेज लाईन डलेगी, उसके बाद रोड बनेगा।
-ईकबाल कुरैशी, पार्षद वार्ड क्रमांक19
ईदगाह मार्ग पर सीसी रोड के लिए काम चल रहा है। मूलचंद्र मार्ग पर पहले सीवर लाईन डलेगी, इसके बाद सड़क निर्माण होगा। चूकि बारिश का मौसम है ऐसे में किसी प्रकार की दिक्कत नहीं आए। इस कारण सड़क निर्माण बारिश खत्म होते ही प्रारंभ हो जाएगा।
-राकेश पप्पू जैन, अध्यक्ष नगरपालिका

harinath dwivedi Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned