बैंड बाजों के साथ सांवरिया लाये नानी बाई के यहा मायरा

नानी बाई का मायरा में उमड़ा जनसैलाब

नीमच. नरसिंह मेहता की आस्था प्रेम भक्ति व समर्पण सांवरा के नाम पर अपनी सारी संपत्ति दीन दुखियों की सेवा में लगा दी। खुद बन गए संत एवं सूरदास की सेवा में भगवान भक्ति में लग गए। उधर नरसिंह मेहता की बेटी नानी बाई दुखी होकर अपने पिता से कह रही पिताजी मेरी बेटी का विवाह है। मायरा आपको लाना है। नरसिंह मेहता कहते हैं। मायरा तो सांवरो करेगा और सांवरिया से अर्ज लगाते हैं कि मेरी और बेटी की लाज रख लेना तो स्वयं भगवान भक्तों की पुकार सुनकर मायरा लेकर नानी बाई के ससुराल जाते हैं। नानी बाई की बेटी को मायरा पहनाते हैं।
उक्त बात व्यास गादी से चंद्रवंशी खाती पटेल समाज के श्री राम मंदिर पर चल रही तीन दिवसीय नानी बाई का मायरा कथा में जय श्री राधे गरबा महिला मंडल के द्वारा आयोजित कथा के दौरान पंडित श्री प्रसून जी महाराज ने धर्म सभा के बीच कहीं इस अवसर पर सांवरा बनकर रमेश गोटा सरगावलिया वाला व जय श्री राम बाल मंडल द्वारा मायरा नगर में बैंड बाजों के साथ श्री कृष्ण राधा की झांकी के साथ नगर में निकला एवं कथा स्थल पहुंचे जहां नरसिंह बने पात्र व नोदराम हुंनदर वाला को मायरा पहनाया इस अवसर पर सैकड़ों महिला पुरुष उपस्थित थे एवं चंद वंशी खाती पटेल समाज अध्यक्ष गोपाल पुष्पक बड़ी संख्या में महिला व वरिष्ठ जन पत्रकार समाजसेवी व श्रद्धालुओं की उपस्थिति में प्रसून जी महाराज ने सुंदर भजन नानी बाई के द्वारा कहे गए शब्दों मेंष्ष् कौन सुने मारी किने सुनाऊएएमन मेरी बात कीड़े बताऊ ष्ष् भजन पर महिला रो पड़ी नानी बाई मायरा का आयोजन महिला मंडल की श्रीमती निर्मला बाई श्रीमती आशा बाई श्रीमती शिल्पा बाई श्रीमती लाली बाई श्रीमती कलाबाई श्रीमती ममता बाई श्रीमती संतोष बाई श्रीमती मंजू श्रीमती पूजा श्रीमती सुनीता श्रीमती शीला श्रीमती लाली श्रीमती रमिला श्रीमती रचना श्रीमती नीन्नी और श्रीमती वर्षा द्वारा नानी बाई के मायरा कथा का आयोजन में तन मन धन से लगी रही और कुकड़ेश्वर में नानी बाई की कथा का शानदार आयोजन पंडित प्रसून जी महाराज के मुखारविंद से हुआ जिसमें लोगों ने मायरे में मुक्त हाथों से दान दिया नानी बाई का मायरा के अंतिम दिन बैंड बाजे ढोल धमाकों के साथ मायरा नगर में घुमा जगह.जगह लोगों ने पुष्प वर्षा से सांवलिया सेठ का स्वागत किया कथा स्थल पर भाव विभोर होकर लोगों ने मायरा दृश्य देखा खाती पटेल समाज के श्री राम मंदिर पर नानी बाई का मायरा कथा का समापन मायरे के साथ हुआ।

Mukesh Sharaiya Bureau Incharge
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned