फरीदाबाद का खुला रास्ता फिर बंद, ज़िम्मेदारों ने साधा मौन

-इसके बाद मीडिया पर लगातार ब्रेकिंग चलने लगी

-इस सारे मामले में नोएडा ट्रैफिक पुलिस का पक्ष है कि उन्होंने कोई रास्ता नहीं खोला था

नोएडा. दिल्ली शाहीन बाग में चल रहे लोगों के सीएए के विरोध और धरना प्रदर्शन के कारण पिछले 69 दिनों से नोएडा से दिल्ली और फरीदाबाद जाने वाले रास्ते को बंद किया गया है, लेकिन शुक्रवार को उस समय यहां हलचल मच गई, जब महामाया फ्लाईओवर के पास से फरीदाबाद और जैतपुर की ओर जाने वाले रास्ते को खोल दिया गया। इसके बाद मीडिया पर लगातार ब्रेकिंग चलने लगी। जिसके बाद इस रास्ते को फिर से बंद करवा दिया गया। इस सारे मामले में नोएडा ट्रैफिक पुलिस का पक्ष है कि उन्होंने कोई रास्ता नहीं खोला था, जबकि सूत्र बताते हैं कि नोएडा फिल्म सिटी के रास्ते में गाड़ी खराब हो जाने के कारण जाम लगा हुआ था। जिसके चलते एक्सप्रेसवे की ओर महामाया फ्लाईओवर पर लगी बैरिकेटिंग कुछ देर के लिए हटाई गई थी, इसे दोबारा बंद कर दिया गया है।

महामाया फ्लाईओवर पर लगी इन बैरिकेटिंगो को हटा कर कुछ देर के लिए छोटे वाहनों को निकलने दिया गया। लोग बताते है कि यमुना खादर की ओर का रास्ता पहले से खुला था। फरीदाबाद-बदरपुर के लिए वाहन यमुना खादर के रास्ते से जाते हैं। खादर में जाम न लगे इसलिए नोएडा पुलिस ने दिल्ली पुलिस के कहने पर महामाया फ्लाईओवर पर डायवर्जन किया था। हालांकि इस रास्ते का शाहीन बाग में चल रहे लोगो के सीएए के विरोध और धरना प्रदर्शन से कोई लेन-देना नहीं है, लेकिन शाहीन बाग की ओर से जाने वाली सड़क जो नोएडा को दिल्ली जोड़ती है, उस पर चल रहे प्रदर्शन के कारण फरीदाबाद-बदरपुर के लिए वाहन यमुना खादर के रास्ते से जा रहे थे जिसके कारण जाम लग रहाई था इसलिए नोएडा पुलिस ने दिल्ली पुलिस के कहने पर महामाया फ्लाईओवर पर डायवर्जन किया था।


नोएडा के एडीसीपी (ट्रैफिक) अनिल झा का कहना है कि नोएडा ट्रैफिक पुलिस ने न कोई बैरिकेटिंग हटाई है और न रास्ता नहीं खोला था, जहां तक फरीदाबाद-बदरपुर के लिए वाहन यमुना खादर के रास्ते से जा रहे उस पर कोई रोक नोएडा पुलिस कि तरफ से नहीं लगाई गई है।

shaheen bagh
Ruchi Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned