वैज्ञानिक बोले, नोएडा सहित पूरा-NCR खतरनाक जोन में, आ सकता है बड़ा भूकंप

Rahul Chauhan

Publish: Dec, 07 2017 04:25:21 (IST)

Noida, Uttar Pradesh, India

चौधरी चरण सिंह विवि में मौजूद मौसम विज्ञान विभाग और भारत मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार इस भूकंप की डेप्थ भूमि से दस किमी भीतर रही।

नोएडा। नोएडा, सहारनपुर, मेरठ सहित दिल्ली के आस-पास के इलाकों में बुधवार रात करीब 8:45 बजे भूकंप के झटके महसूस किए गए। भूकंप के इन झटकों के बाद भू-वैज्ञानिकों ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी। ये झटके नोएडा में ही नहीं बल्कि दिल्ली समेत हरियाणा और उत्तराखंड में भी महसूस किए गए। रात को लोग घरों में बैठे ही थे कि अचानक भूकंप के झटके शुरू हो गए।

रात करीब 8:52 पर आए भूकंप की तीव्रता रिएक्टर स्केल पर 5.4 बतार्इ गई। हालांकि भूकंप का केंद्र उत्तराखंड के रुद्र प्रयाग में पाया गया। गनीमत रही कि नोएडा में भूकंप से किसी भी तरह की हानि नहीं हुर्इ। हालांकि, झटकों से लोगों में एक दहशत सी बैठ गर्इ। अब से सात माह पहले जून में भी दिल्ली-NCR समेत हरियाणा के कर्इ जिलों में भूकंप के जोरदार झटके महसूस किए गए थे।

मेरठ, दिल्ली सहित पूरा एनसीआर जोन-4 में
भू-वैज्ञानिक डा0 कंचन सिंह के अनुसार उत्तराखंड से लेकर मेरठ, दिल्ली और एनसीआर भूकंप के सबसे खतरनाक जोन चार में है। उन्होंने बताया कि चूंकि ये क्षेत्र हिमालय का निचला हिस्सा है। यहां भूमि के करीब 5 किमी की सिस्मेसिक प्लेटों के बीच आपस में काफी गैप आ चुका है। इसका कारण भूमिक्षरण और तेजी से हो रहा वृक्षों का कटान है। इसके अतिरिक्त निर्बाध गति से भूमि से पानी का दोहन भी भूकंप का कारण है।

जिसके कारण इन प्लेटों के बीच गैप के कारण ये आपस में टकराती रहती हैं। जिसके कारण इन क्षेत्रों में पांच से सात रिएक्टर पैमाने के भूकंप आने संभावना हमेशा बनी रहती है। एनसीआर के मैदानी इलाकों में तो तीन से चार रिएक्टर स्केल के भूकंप तो यदा कदा आते रहते हैं चूंकि ऐसे भूकंपों की समय सीमा काफी कम होती है इसलिए ये महसूस नहीं हो पाते।

चौधरी चरण सिंह विवि में मौजूद मौसम विज्ञान विभाग और भारत मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार इस भूकंप की डेप्थ भूमि से दस किमी भीतर रही। इंडिया मेटालॉजिकल डिपार्टमेंट के अनुसार इसका सीधा मतलब हुआ कि 5.5 रिक्टर स्केल पर भूकंप की जो तीव्रता थी वह आने वाले समय के लिए चेतावनी है। इस भूकंप के बाद मौसम विज्ञान विभाग भी सचेत हो गया है।

लोगों में भूकंप की दहशत
बुधवार रात करीब 8.52 बजे आए भूकंप के झटकों का केंद्र उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग को बताया जा रहा है। भूकंप की खबर उत्तराखंड से यूपी की पश्चिमी बेल्ट से नोएडा आैर दिल्ली एनसीआर तक फैल गई। यहां पर भूकंप की तीव्रता 5.4 मापी गई है। यहां भी भकंप के हल्के झटके महसूस किए गए। हालांकि झटके बहुत मामूली थे। गनीमत रही कि इससे कोर्इ नुकसान नहीं हुआ। वहीं लोग सहमे हुए हैं।

सात माह पहले भी दिल्ली-NCR में आया था भूकंप
आपको बता दें कि सात माह पहले जून में दिल्ली एनसीआर समेत हरियाणा के कर्इ जिलों में भूकंप के जोरदार झटके महसूस किए गए थे। उस समय भूकंप सुबह के साढ़े चार बजे के आसपास आया था और इसका केंद्र हरियाणा था। जिसके जोरदार झटके नोएडा से सटे अन्य जिलों में भी महसूस किए गये थे।

सहारनपुर में भी महसूस किए गए भूकंप के झटके
उत्तराखंड से सटे उत्तर प्रदेश के शहर सहारनपुर में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए। करीब 8:52 बजे के आसपास ये हल्के झटके महसूस किए गए। इस दौरान भूकंप की सूचना सोशल मीडिया पर तेजी से फैली और लोगों ने घरों से बाहर निकल कर WhatsApp पर यह जानकारी एक दूसरे से शेयर करते हुए बताया कि भूकंप आया था जिसके हल्के झटके शहर में महसूस किए गए हैं।

पड़ोसी राज्यों के शहरों में भी महसूस हुए भूकंप के झटके
सहारनपुर से सटे राज्य उत्तराखंड के देहरादून, हरिद्वार, रुड़की, पिथौरागढ़ और बागेश्वर में भी भूकंप के झटके सहारनपुर से अधिक महसूस किए गए। सहारनपुर के काफी लोग इन पड़ोसी राज्यों के शहरों में रहते हैं और उन्होंने यहां फोन करके अपने परिवार वालों को यह जानकारी दी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned