scriptस्पंदन : विवाह-6 | Spandan : Marriage-6 | Patrika News

स्पंदन : विवाह-6

जीवन को दो ही तत्त्व चलाते हैं-विद्या और अविद्या। धर्म-ज्ञान-वैराग्य-ऐश्वर्य विद्या कहलाते हैं। अधर्म, अस्मिता, आसक्ति, अभिनिवेश को अविद्या कहते हैं। विद्या से बुद्धि प्रभावित होती है। अविद्या मन के प्रवाह से जुड़ती है।

जयपुर

Published: July 11, 2021 09:01:34 am

spandan_marriage_gulab_kothariji_article.jpg

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Group Sites

Top Categories

Trending Topics

Trending Stories

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.