World Wrestling Championships: बजरंग और साक्षी की अगुवाई में भारतीय पहलवानों की टीम हंगरी रवाना

बुडापेस्ट में होने वाली विश्व कुश्ती चैम्पियनशिप लिए मंगलवार सुबह भारतीय पहलवानों की टीम हंगरी रवाना हो गई। यह चैम्पियनशिप 20 से 28 अक्टबूर के बीच खेली जाएगी।

By:

Updated: 09 Oct 2018, 06:16 PM IST

नई दिल्ली । बुडापेस्ट में होने वाली विश्व कुश्ती चैम्पियनशिप लिए मंगलवार सुबह भारतीय पहलवानों की टीम हंगरी रवाना हो गई। यह चैम्पियनशिप 20 से 28 अक्टबूर के बीच खेली जाएगी। भारत का विश्व चैम्पियनशिप में प्रदर्शन खराब रहा है। उसने 2010 में सुशील कुमार के माध्यम से मास्को में सिर्फ एक स्वर्ण पदक जीता है। तीन साल बाद बजरंग पूनिया ने 2013 में बुडापेस्ट में ही कांस्य जीता था। महिलाओं में विनेश के नाम पदक है।

बजरंग पूनिया और साक्षी मलिक पर होगी निगाहें
इस बार एशियाई खेलों में पदक जीतने वाले पुरुष खिलाड़ी बजरंग पूनिया और रियो ओलम्पिक-2016 की कांस्य पदक विजेता साक्षी मलिक के जिम्में भारत का प्रदर्शन सुधारने की जिम्मेदारी है। भारतीय कुश्ती के प्रधान प्रायोजक टाटा मोटर्स और भारतीय कुश्ती महासंघ (डब्ल्यूएफआई) के अधिकारियों ने भारतीय टीम को शुभकामनाओं के साथ विदा किया। भारतीय टीम मुख्य आयोजन से पहले प्री-टूर्नामेंट कंडीशनिंग कैम्प में हिस्सा लेगी।भारतीय कुश्ती महासंघ ने फ्रीस्टाइल, ग्रीको रोमन और महिलाओं की स्पर्धा के लिए 10-10 खिलाड़ियों का चयन किया है।

विनेश को कोहनी में चोट के कारण विश्व चैम्पियनशिप से हटना पड़ा
विश्व चैम्पियनशिप में पुरुष वर्ग में भारत को पदक दिलाने का दारोमदार बजरंग पूनिया के कंधों पर होगा, जो फ्रीस्टाइल कटेगरी के 65 किलोग्राम भारवर्ग में अपनी चुनौती पेश करेंगे। इसी तरह महिला वर्ग में भारत को 62 किलोग्राम भारवर्ग में साक्षी के अलावा राष्ट्रमंडल खेलों में रजत पदक जीतने वाली पूजा ढांढा (57 किलोग्राम भारवर्ग) से पदक की उम्मीद होगी।मजेदार बात यह है कि फोगाट बहनों में से सिर्फ एक रितु इस टीम में शामिल हैं। एशियाई खेलों में स्वर्ण जीतने वाली विनेश को कोहनी में चोट के कारण विश्व चैम्पियनशिप से हटना पड़ा है। रितु को ऐसे में अपनी भूमिका का आभास है।चार पहलवान-बजरंग, कुलदीप, गुरप्रीत और हरप्रीत पहले से ही हंगरी में अभ्यास कर रहे हैं और जब टीम वहां पहुंचेगी, तब वे टीम के साथ जुड़ जाएंगे।

भारतीय टीम :

फ्रीस्टाइल : संदीप तोमर (57 किग्रा), सोनबा तानाजी गोंगाने (61 किग्रा), बजरंग पूनिया (65 किग्रा), पंकज राणा (70 किग्रा), जितेंद्र (74 किलो), सचिन राठी (79 किग्रा), पवन कुमार (86 किलो), दीपक (92 किलो) मौसम खत्री (97 किलो), सुमित (125 किलो), जगमिंदर सिंह (चीफ कोच)।

महिला : रितु फोगट (50 किलो), पिंकी (53 किलो), सीमा (55 किलो), पूजा धन (57 किलो), संगीता (5 9 किलो), साक्षी मलिक (62 किलो), रितु (65 किलो), नवजोत कौर (68 किलो), रजनी (72 किलो), किरण (76 किलो), कुलदीप मलिक (मुख्य कोच)।

ग्रीको रोमन : विजय (55 किलो), ज्ञानेंद्र (60 किलो), गौरव शर्मा (63 किलो), मनीष (67 किलो), कुलदीप मलिक (72 किग्रा), गुरप्रीत सिंह (77 किलो), मनजीत (82 किग्रा), हरप्रीत सिंह (87 किलो), हरदीप (9 7 किलो) ), नवीन (130 किलो), कुलदीप सिंह (चीफ कोच)।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned