FATF लिस्ट: इन तीन रिव्यू रिपोर्ट से होगा पाकिस्तान के भाग्य का फैसला, अक्टूबर में होगा ऐलान

  • अभी तक FATF की ग्रे लिस्ट में है पाकिस्तान
  • ग्रे लिस्ट से बाहर निकलने के लिए FATF और अमरीका ने रखी हैं कई शर्तें

By: Shweta Singh

Updated: 21 Aug 2019, 07:20 PM IST

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के लिए मुसीबतें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। आनेवाले समय में पाकिस्तान के लिए FATF की सूची सरदर्द बनने वाली है। दरअसल, एक तरफ तो FATF यानी पाकिस्तान फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स की ग्रे लिस्ट से बाहर निकलने के लिए कड़ी कोशिश कर रहा है। हालांकि, अब उसके प्रदर्शन और अनुपालन रिपोर्ट की समीक्षा की जा रही है।

तीन अलग-अलग आधारों पर होगा मूल्यांकन

इस बारे में पाकिस्तान के डॉन न्यूज की ओर से जानकारी मिल रही है। रिपोर्ट में कहा गया है कि वर्तमान में चल रहे तीन अलग-अलग आधारों पर पाकिस्तान का मूल्यांकन किया जा रहा है। इन्हीं के आधार पर अक्टूबर के मध्य में FATF की ग्रे सूची से पाकिस्तान के निकलने की संभावना निर्धारित होगी।

ऑस्ट्रेलिया में पांच-वर्षीय आपसी मूल्यांकन

रिपोर्ट में एक शीर्ष सरकारी अधिकारी के हवाले से कहा गया कि FATF की क्षेत्रीय संबद्ध इकाई एशिया-प्रशांत समूह (APG) मूल्यांकन कर रहा है। यह समूह आर्थिक तथा बीमा सेक्टरों के सभी क्षेत्रों में अपने तंत्रों को उन्नत करने के लिए वर्तमान में केनबरा (ऑस्ट्रेलिया) में पांच-वर्षीय आपसी मूल्यांकन कर रहा है।

टेरर फंडिंग के खिलाफ संसद में कानून

हालांकि, यह प्रक्रिया पाकिस्तान की ओर से FATF से धन शोधन और टेरर फंडिंग पर किए उच्च स्तरीय प्रतिबद्धताओं को लेकर प्रदर्शन से सीधे-सीधे संबंधित नहीं है। लेकिन यह रिपोर्ट देश को ग्रे सूची से निकालने में परोक्ष रूप से प्रभावित कर सकती है। अधिकारी ने कहा कि पाकिस्तान ने पिछले एक साल में इस संबंध में महत्वपूर्ण प्रगति की है। लेकिन अमरीका, एपीजी और एफएटीएफ पाकिस्तान से उम्मीद करते हैं कि वह 13-18 अक्टूबर से पहले अपने धन शोधन तथा टेरर फंडिंग के खिलाफ संसद में कानून बनाए।

Shweta Singh Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned