बीजेपी में टिकटों की मारामारी, सतीश पूनिया ने लिए आवेदन

बीजेपी में टिकटों की मारामारी, सतीश पूनिया ने लिए आवेदन

Satydev Upadhyay | Publish: Oct, 14 2018 07:05:05 AM (IST) Pali, Rajasthan, India

www.patrika.com/rajasthan-news

पाली. विधानसभा चुनाव को लेकर बीजेपी में टिकट के लिए आवेदन की औपचारिक प्रक्रिया शनिवार को शुरू हुई। चुनाव समन्वय समिति से जुड़े बीजेपी नेता सतीश पूनिया ने यहां प्रजापत समाज छात्रावास में दावेदारी जताने वालों के बायोडाटा लिए। मजे की बात ये रही कि आवेदन करने एक भी मौजूदा विधायक शामिल नहीं हुआ। विधायकों के अलावा अन्य सभी दावेदारों ने विधानसभावार दावेदारी जताई। कई दावेदारी जताने वालों ने तो ये भी कह दिया कि टिकट किसी को भी दे देना, लेकिन मौजूदा विधायक को मत देना। दरअसल, बीजेपी की किसान केसरी गार्डन में शनिवार को जिला स्तरीय चुनावी बैठक हुई। जिसमें सह प्रभारी वी सतीश और चुनाव समन्वय समिति के सतीश पूनिया समेत कई पार्टी नेता शामिल हुए। चुनावी तैयारियों पर चर्चा करने के बाद प्रजापत छात्रावास में दावेदारी जताने वालों से पूनिया ने मुलाकात की। हर विधानसभा से बड़ी संख्या में दावेदार पहुंचे। बारी-बारी से सभी ने पूनिया को अपना बायोडाटा थमाया। उन्होंने अपने जातीय समीकरणों समेत अन्य पक्ष भी मजबूती से रखे।


जैतारण से पहुंची भीड़, गोयल के विरोध में हुए एकजुट

जैतारण से दावेदारी जताने वालों की तादाद काफी रही। पुष्पेंद्र सिंह कुडक़ी, अविनाश गहलोत समेत कई नेताओं ने दावेदारी की। उन्होंने मौजूदा विधायक सुरेंद्र गोयल को लेकर भारी विरोध जताया। यहां तक कह दिया कि गोयल के अलावा किसी को भी जीता देंगे। इतना ही नहीं सभी दावेदार और उनके समर्थक छात्रावास के बाहर धरना देकर बैठ गए। बाद में पूनिया ने आश्वस्त किया कि उनकी बात आलाकमान तक पहुंचा दी जाएगी।


इन्होंने भी किया दावा
सुमेरपुर से प्रतापसिंह बीठिया, हनुमान भाटी, दीपक भाटी, मारवाड़ जंक्शन विधानसभा से जिला प्रमुख पेमाराम सीरवी, सुमेरसिंह कुम्पावत, सुनील सीरवी, हेमंत गाडाना, पुनाराम सीरवी, पार्षद सुरेश चौधरी, सोजत से शोभा चौहान, लक्ष्मी बारूपाल, मदन मोदी और बाली से हीरसिंह राजपुरोहित ने अपनी दावेदारी पेश की। इसी तरह सोजत से गणपत मेघवाल, सुमेरपुर से भंवर चौधरी, भगवत सिंह पावा, नागेश देवासी, मारवाड़ जंक्शन से घीसुलाल और लक्ष्मीनारायण दवे ने भी दावेदारी जताई।

 

पाली में पारख के विरुद्ध सभी एकजुट
पाली विधानसभा से भी कई दावेदार सामने आए। उन्होंने विधायक ज्ञानचंद पारख के विरुद्ध एकजुटता दिखाई। राकेश भाटी, संजय ओझा, सुनील भंडारी, शिवजी प्रजापत, प्रवीण सोमानी, पुखराज पटेल समेत कइयों ने दावेदारी जताई। उन्होंने यह भी कहा कि बदलाव नहीं किया गया तो पार्टी को नुकसान उठाना पड़ेगा। सुनील भंडारी ने कहा कि राजनीतिक कमजोरी से यहां आधे से ज्यादा उद्योग बंद हो गए हैं और उद्यमी अब भी पलायन कर रहे हैं। संजय ओझा ने कहा कि यहां पार्टी को व्यक्तिगत ढंग से चलाया जा रहा हैं, इसलिए बदलाव करें। पुखराज पटेल ने किसानों की समस्या के लिए मौजूदा विधायक को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि किसान और उद्यमी सभी नाराज है। राकेश भाटी ने भी पार्टी को जीत दिलाने के लिए नए चेहरे पर विश्वास जताने की बात कही।


मौजूदा विधायक ने नहीं दिया आवेदन
पूनिया जब सभी विधानसभाओं से आए पार्टी कार्यकर्ताओं से बायोडाटा ले रहे थे तब एक भी मौजूदा विधायक उपस्थित नहीं हुआ। बाद में जब इस बारे में पूनिया से सवाल किया तो उन्होंने कहा वे सभी तो दावेदार है ही अभी मीटिंग में होने के कारण यहां नहीं आए। हालांकि, ये बात और है कि मीटिंग खत्म हो गई थी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned