हरियाणा सरकार ने गेहूं खरीद में लगाई शिक्षकों की ड्यूटी

महिला व दिव्यांग शिक्षकों को भी किया तैनात
एक समय पर दो से तीन जगह ड्यूटी लगने पर शिक्षक गफलत में

By: Chandra Prakash sain

Updated: 18 Apr 2020, 07:31 PM IST

चंडीगढ़. हरियाणा सरकार ने अगले सप्ताह शुरू होने वाली गेहूं खरीद में अन्य विभागों के साथ-साथ शिक्षकों की भी ड्यूटी लगा दी है। जिसे लेकर अध्यापकों में सरकार के विरूद्ध रोष पाया जा रहा है। कई जगह तो शिक्षकों से एक समय में एक से अधिक काम लिए जा रहे हैं।
आलम यह है कि गंभीर बीमारियों से ग्रस्त कई कर्मचारियों को गंभीर बीमारी की हालत में भी मंडियों में ड्यूटी लगा दी गई है। हालांकि मामला संज्ञान में आने के बाद अब जिला शिक्षा अधिकारियों ने वैकल्पिक इंतजाम शुरू किए हैं। डबल ड्यूटी कर रहे शिक्षकों की जगह दूसरे कर्मचारियों को प्रतिस्थापन के तौर पर लगाया गया है। हरियाणा विद्यालय अध्यापक संघ के प्रदेशाध्यक्ष सीएन भारती कहते हैं कि अध्यापक विचलित हैं। वह कैसे एक ही समय में सरकार, विभाग, शिक्षा बोर्ड, कृषि विभाग व स्थानीय प्रशासन में से किसका आदेश मानें व किसका छोड़े। इसलिए एक समय में एक ही कार्य लेना सुनिश्चित करें व विभिन्न ड्यूटियों में प्राथमिकता तय की जाए।
बाक्स---
मांगें मनवाने को एकजुट हुए कच्चे कर्मचारी
महामारी से लडऩे को आवश्यक सुरक्षा उपकरण नहीं मिलने से खफा ग्रामीण सफाई कर्मचारियों, आशा वर्कर, आंगनबाड़ी, मिड-डे मील वर्करों, ग्रामीण चौकीदारों व हेल्थ विभाग के ठेका कर्मचारियों ने शनिवार को कार्य स्थलों पर काले बिल्ले व काली चुन्नी ओढकऱ विरोध जताया। मजदूर संगठन सेंटर ऑफ इंडियन ट्रेड यूनियन (सीटू ) के आह्वान पर यह प्रदर्शन किया गया।
सीटू की प्रदेश अध्यक्ष सुरेखा, महासचिव जय भगवान व कोषाध्यक्ष विनोद कुमार ने बताया कि मांगे पूरी नहीं होने पर 21 अप्रैल को सभी गांव, कस्बों व शहरों में थाली बजाओ-बर्तन बजाओ आंदोलन करेंगे। सर्व कर्मचारी संघ के प्रदेशाध्यक्ष सुभाष लांबा व महासचिव सतीश सेठी ने इस आंदोलन का समर्थन किया है।
लांबा ने बताया कि ग्रामीण सफाई कर्मियों, स्वास्थ्य विभाग के ठेका कर्मचारियों, आशा, आंगनबाड़ी, चौकीदारों, मिड-डे मील वर्करों को भी कोरोना अवधि के दौरान समान काम समान वेतन या डबल वेतन दिया जाए। इन कर्मचारियों को मास्क, दस्ताने, जूते, सैनिटाइजर, जैकेट पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध कराए जाएं।
हरियाणा की अन्य खबरों के लिए क्लिक करें....

Chandra Prakash sain
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned