हीरा तस्करों ने निहत्थे वन अमले को बंधक बनाकर पीटा था, पुलिस से भी नहीं मिली थी मदद

पन्ना जिले में पहली बार हीरा तस्करों ने की वारदात, अवैध खदानों पर कार्रवाई करने पहुंचा था वन अमला, आधा दर्जन वनकर्मी घायल, छह नामजद सहित अन्य पर मामला दर्ज, एफआईआर दर्ज करने में पुलिस को लगे 4 घंटे

By: Pushpendra pandey

Published: 24 Jul 2019, 12:52 PM IST

पन्ना. हीरा तस्करों ने मंगलवार को अवैध खदानों पर कार्रवाई करने पहुंचे वन अमले पर जानलेवा हमला कर दिया। तस्करों ने कट्टे के दम पर निहत्थे वनकर्मियों को बंधक बनाया और जमकर पीटा। इससे डिप्टी रेंजर सहित आधा दर्जन अधिकारी-कर्मचारी घायल हो गए। उत्तर वन मंडल के विश्रामगंज रेंज में सुबह करीब 11 बजे हुई घटना के बाद पुलिस को एफआईआर दर्ज कराने में 4 बज गए। इसके बाद सभी घायलों को इलाज मिल सका। ब्रजपुर थाना में पुलिस ने छह नामजद सहित 10-12 अन्य लोगों पर मामला दर्ज कर तलाश शुरू कर दी है।

 

मारापीटा और साथियों को छुड़ा ले गए
बताया गया, वन अमले को पिछले कुछ दिनों से लगातार सूचना मिल रही थी कि विश्रामगंज रेंज के अमला हार कम्पार्टमेंट क्रमांक 368 में अवैध रूप से हीरा खदानों का संचालन हो रहा है। मंगलवार की सुबह डिप्टी रेंजर अजीत खरे के नेतृत्व में वन अमला कार्रवाई करने के लिए पहुंचा। कर्मचारियों ने अवैध रूप से हीरा खदान चला रहे कुछ लोगों को पकड़ लिया। जबकि, कुछ लोग भाग गए और अवैध खदान चला रहे हीरा तस्करों सहित उनके गुर्गों को कार्रवाई के बारे में बताया। करीब 10-15 मिनट बाद दो-तीन वाहनों में हीरा तस्कर अपने गुर्गों के साथ पहुंचे और वन अमले पर हमला करते हुए उनको कट्टे के दम पर बंधक बना लिया। इसके बाद सभी कर्मचारियों को जमकर पीटा। मारपीट के बाद आरोपी वन अमले के कब्जे से अपने साथियों को छुड़ाकर भाग गए।

 

11 बजे घटना, शाम 4 बजे एफआईआर
हीरा तस्करों के हमले में डिप्टी रेंजर अजीत खरे, बीट गार्ड संजय पटेल, अखिलेश सिंह चौहान, अंजनी दीक्षित, प्रताप सिंह, मनीराम वर्मा, रंजीत सिंह और चौकीदार संजय पटेल घायल हो गए। घायलों ने वारदात की सूचना अपने अधिकारियों को दी। इसके बाद विभाग के लोग मौके पर पहुंचे और उन्हें मामले की शिकायत दर्ज कराने बृजपुर थाना लेकर पहुंचे। पीडि़त कर्मचारी सुबह 11 बजे से शाम चार बजे तक एफआईआर दर्ज कराने के लिए थाने में बैठे रहे। जब वहां एफआईआर हुई तब वे इलाज के लिए जिला अस्पताल पहुंचे। वहां दो वनकर्मी की हालत गंभीर बनी है। इधर, पुलिस ने छह नामजद सहित 10-12 अन्य लोगों के खिलाफ अपराध दर्ज कर विवेचना में लिया है।

 

ब्रजपुर थाने में शिकायत

रहुनिया बीट में कुछ लोग अवैध हीरा खदान लगाए हैं। हमारी टीम कार्रवाई के लिए गई थी। वहां कुछ लोग आए और टीम पर हमला कर दिया। इसमें दो वनकर्मी गंभीर रूप से घायल हो गए। चार लोगों को मामूली चोट आई है। शिकायत ब्रजपुर थाने में कर दी गई है।
नरेंद्र सिंह परमार, एसडीओ, वन विभाग पन्ना

Pushpendra pandey Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned