नीतीश कुमार ने कहा, एनडीए के घटक दल समय आने पर सीट शेयरिंग के मुद्दे पर बातचीत करेंगे,बिहार में सरकार में नहीं मतभेद

नीतीश कुमार ने कहा, एनडीए के घटक दल समय आने पर सीट शेयरिंग के मुद्दे पर बातचीत करेंगे,बिहार में सरकार में नहीं मतभेद
neetish kumar file photo

| Publish: Jul, 09 2018 03:30:07 PM (IST) Patna, Bihar, India

जदयू अध्यक्ष नीतीश कुमार ने कहा है कि बिहार में सरकार में कोई मतभेद नहीं है। एनडीए में सीट शेयरिंग समय आने पर होगी। एनडीए में इस बाबत कोई दिक्कत नहीं आने वाली

(प्रियरंजन भर्ती की रिपोर्ट)

पटना। मुख्यमंत्री और जदयू अध्यक्ष नीतीश कुमार ने कहा है कि बिहार में सरकार में कोई मतभेद नहीं है। एनडीए में सीट शेयरिंग समय आने पर होगी। एनडीए में इस बाबत कोई दिक्कत नहीं आने वाली। नीतीश कुमार ने कहा कि एनडीए के घटक दल समय आने पर सीट शेयरिंग के मुद्दे पर बैठकर बातचीत करेंगे। मुख्यमंत्री यहां संवाद कार्यक्रम के बाद मीडिया से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सरकार में कोई मतभेद नहीं है। मैं और सुशील मोदी यहां एक साथ बैठे हैं। उन्‍होंने सवाल किया कि क्या कहीं कोई दूरी नज़र आ रही है? लोग चीजों को गलत तरीके से प्रचारित करते रहते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि जो कुछ हो रहा है,जिस भाषा का प्रयोग किया जा रहा है,वह गलत है।

 

सांप्रदायिक माहौल खराब नहीं होने देंगे

 

हम किसी भी कीमत पर सांप्रदायिक माहौल खराब नहीं होने देंगे। उन्‍होंने केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के कथित दंगा आरोपी से मिलने की बात पर कहा कि आरोपी से मिलना गलत है। कोई अपनी राय दे सकता है। अगर कुछ गलत हो रहा लगता हो तो फिर उसे न्यायालय जाना चाहिए। बता दें कि गिरिराज सिंह ने नवादा में विहिप और बजरंग दल के उन कार्यकर्ताओं से जेल में जाकर मुलाकात की और उनके परिजनों से भी मिले जो पिछले साल वहां हुए सांप्रदायिक तनाव के आरोपी बनाए गए और जेल में हैं।

 

लालू से हालचाल लेना गलत नहीं

 

नीतीश कुमार ने कहा कि लालू यादव से चार बार फोन पर हालचाल लिए। इसका गलत तरीके से दुष्प्रचार किए गया। यह सब ठीक नहीं है। उन्होंने कहा कि क्या हम किसी से सेहत की जानकारी नहीं ले सकते। आरजेडी नेता तेजप्रताप यादव की ओर से नो इंट्री की तख्ती दिखाने के सवाल पर उन्‍होंने कहा कि किसी की हैसियत नो इंट्री का बोर्ड लगाने की है कहां।

 

शराबबंदी कानून में सुधार संभव

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि शराबबंदी के पिछले डेढ़ साल के अनुभवों के आधार पर विचार किया जा रहा है। इस बाबत उच्चाधिकारियों की टीम गठित की गई है। कानूनविदों की राय ली जा रही है। सघन विचार विमर्श के बाद प्रोविजन में जरूरी बदलाव किए जा सकते हैं।

 

बिहार से बाहर गठबंधन नहीं

 

नीतीश कुमार ने बिहार से बाहर भाजपा से गठबंधन के बारे में कहा कि हमारा बिहार में गठबंधन है। जो लोग बिहार से बाहर पार्टी का विस्तार चाहते और काम में लगे हुए हैं,उनकी इच्छाओं के अनुरूप फैसला किया जाता है। बता दें, जदयू आने वाले दिनों में राजस्थान समेत अन्य राज्यों के विधानसभा चुनावों में अपने उम्मीदवार खड़े करने की योजना में है। इस बाबत जदयू ने सभी राज्यों में भाजपा से सीट शेयरिंग को लेकर बयानबाजी भी बढ़चढ़कर की हुई है।

 

एकसाथ चुनाव के पक्षधर


मुख्यमंत्री ने वन इंडिया वन इलेक्शन के सवाल पर कहा कि हम सिद्धांत रूप से इसके पक्षधर हैं। यह एक बड़ा मुद्दा है। सभी राजनीतिक दलों से बातचीत के बाद आम राय बनेगी। उन्होंने कहा कि सभी चुनाव यदि एक साथ कराए जाते हैं तो सरकारों को साढ़े चार साल काम करने का मौका मिलेगा।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned