महिला आश्रय गृह की छत से कूदी युवती, हालत गंभीर

Mukesh Kumar

Publish: Sep, 16 2017 02:12:06 (IST)

Pilibhit, Uttar Pradesh, India
महिला आश्रय गृह की छत से कूदी युवती, हालत गंभीर

महिला आश्रय गृह के बाहर आए युवकों की शिकायत करने पर वार्डन ने पीटा

पीलीभीत। जिले में महिला एवं बाल विकास मंत्रालय द्वारा संचालित महिला स्वाधार गृह की छत से कूदकर एक युवती ने खुदकुशी का प्रयास किया है। बताया जाता है कि गुरुवार रात को चार युवकों ने स्वाधार गृह का दरवाजा खुलवाने का प्रयास किया था। स्वाधार गृह के वार्डन और उसके पति के लौटने के बाद युवती ने मामले की शिकायत की तो उसको ही अपमानित कर पीटा गया। जिससे आहत युवती ने स्वाधार गृह की दूसरी मंजिल से छलांग लगा दी। जिससे वो गम्भीर रूप से घायल हो गई। घंटों बाद उसे जिसे जिला चिकित्सालय में भर्ती करवाया गया, लेकिन पुलिस को मामले की सूचना किसी ने भी नहीं दी।


परिजन करते थे युवती से मारपीट
पीड़ित युवती ने जिला अस्पताल में मीडिया को अपनी बात बताई। शहर कोतवाली क्षेत्र के अलीगंज गाव की रहने वाली युवती किसी युवक से प्रेम करती थी। जिसको लेकर उसके परिजन अकसर मारपीट करते थे। जिससे तंग आकर युवती ने 181 पर कॉल कर अपनी समस्या बताई। जिसके बाद आशा ज्योति केंद्र के कर्मचारियों ने उसका रेस्क्यू किया। आठ अगस्त को उसे प्रोबेशन विभाग से संचालित महिला स्वाधार गृह में रख दिया। पीड़ित युवती के मुताबिक उसने महिला आश्रय गृह के बाहर कुछ संदिग्ध लोगों को देखा था।


वार्डन और उसके पति पर लगाए आरोप
पीड़ित युवती का कहना है कि रात को पांच युवक आश्रय गृह का दरवाजा खोलने का प्रयास कर रहे थे। इसकी शिकायत उसने वार्डन से की थी। जिस पर वार्डन और उसके पति ने पीटा। जिससे आहत होकर उसने स्वाधार गृह की दूसरी मंजिल से कूदकर आत्महत्या का प्रयास किया। खास बात यह है कि स्वाधार गृह की वार्डन और आशा ज्योति केंद्र के कर्मियों ने इसकी सूचना पुलिस को नहीं दी। चुपचाप घायल युवती को जिला चिकित्सालय में भर्ती करा दिया। मीडिया से मामले की जानकारी होने पर अब पुलिस जांच में जुट गई है।

 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned