मायावती-अखिलेश से मुलाकात के बाद तेजस्वी का बड़ा ऐलान, UP में चुनाव नहीं लड़ेगी RJD

मायावती-अखिलेश से मुलाकात के बाद तेजस्वी का बड़ा ऐलान, UP में चुनाव नहीं लड़ेगी RJD

Anil Kumar | Publish: Jan, 14 2019 08:39:51 PM (IST) | Updated: Jan, 15 2019 08:46:52 AM (IST) राजनीति

बसपा-सपा के गठबंधन के बाद अब तेजस्वी यादव ने एक बड़ा ऐलान करते हुए कहा है कि राष्ट्रीय जनता दल 2019 के आम चुनाव में उत्तर प्रदेश में अपने उम्मीदवार नहीं उतारेगी।

पटना। आम चुनाव का समय करीब आता जा रहा है और सियासी पारा चढ़ता जा रहा है। इसका नतीजा उत्तर प्रदेश से लेकर बिहार में दिखने लगा है। दरअसल उत्तर प्रदेश में बसपा-सपा के गठबंधन के बाद अब राजद नेता तेजस्वी यादव ने एक बड़ा ऐलान कर दिया है। लखनऊ से पटना पहुंचे तेजस्वी यादव ने एक बड़ा ऐलान करते हुए कहा है कि राष्ट्रीय जनता दल 2019 के आम चुनाव में उत्तर प्रदेश में अपने उम्मीदवार नहीं उतारेगी। बता दें कि तेजस्वी ने यह फैसला मायावती और अखिलेश यादव से बीते दिन मुलाकात के बाद किया है।

अखिलेश—मायावती गठबंधन के बाद बोले तेजस्वी यादव, 'लालू जी का सपना हुआ पूरा'

पीएम मोदी को हराने के लिए सपा-बसपा काफी: तेजस्वी

आपको बता दें कि सोमवार को तेजस्वी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में सपा-बसपा का गठबंधन पीएम मोदी को हराने के लिए काफी है, इसलिए कांग्रेस के साथ गठबंधन नहीं किया गया। बता दें कि तेजस्वी से पूछा गया कि उत्तर प्रदेश में कांग्रेस के साथ सपा-बसपा ने गठबंधन क्यों नहीं किया। इसी के जवाब में तेजस्वी ने ये बातें कही। बता दें कि उत्तर प्रदेश में बसपा-सपा ने एक साथ गठबंधन कर सबको चौंका दिया। इसके बाद राजनीतिक हवाओं के रूख को देखते हुए तेजस्वी यादव ने लखनऊ तक की दौड़ लगा दी। मायावती से मिलकर उनका आशीर्वाद लिया तो अखिलेश यादव से मिलकर चुनावी रणनीति की चर्चा की। इसके बाद जब ले पटना पहुंचे तो एक बड़ा ऐलान करते हुए बताया कि राजद उत्तर प्रदेश में लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेगा।

सपा-बसपा गठबंधन में UP की इस वीवीआईपी सीट पर लड़ेगी समाजवादी पार्टी!, जानिये कौन होगा प्रत्याशी

38-38 सीटों पर सपा-बसपा लड़ेगी चुनाव

आपको बता दें कि भाजपा और मोदी सरकार को रोकने के लिए मायावती और अखिलेश ने वर्षों पुरानी दुश्मनी को दरकिनार करते हुए हाथ मिलाया और चुनावी गठबंधन किया। गठबंधन की शर्तों की मुताबिक दोनों ही पार्टियां 38-38सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारेंगी, जबकि चार सीटें अन्य के लिए छोड़ा गया है। माना जा रहा है कि इस गठबंधन में कांग्रेस को शामिल नहीं किया गया है इसलिए उनके लिए दो सीटें छोड़ी गई है। हालांकि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने साफ कर दिया है कि उत्तर प्रदेश में कांग्रेस सभी 80 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। अब देखना दिलचस्प होगा कि कांग्रेस का 80 सीटों पर उम्मीदवार उतारना और राजद का चुनाव नहीं लड़ना सपा-बसपा गठबंधन के लिए फायदेमंद साबित होता है या नुकसानदेह।

 


Read the Latest India news hindi on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले India news पत्रिका डॉट कॉम पर.

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned