Delhi : जब बीच सड़क पर लड़ने लगे विधायक और महिला पार्षद, जानिए किसकी हुई जीत

 

  • Municipal Councillor की शह पर मार्केट में अतिक्रमण चरम पर।
  • M Block Market में अतिक्रमण को बढ़ावा देने में पुलिस भी शामिल है।
  • अगर विधायक को शिकायत है तो एमसीडी से Encroachment को हटवा दें।

By: Dhirendra

Updated: 03 Jul 2020, 04:18 PM IST

नई दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली में अभी किसी भी नजरिए से चुनावी हलचल नहीं है। इसके बाजवूद आम आदमी पार्टी के विधायक सौरभ भारद्वाज ( Aam Aadmi Party MLA Saurabh Bhardwaj ) और बीजेपी पार्षद शिखा राय ( BJP councilor Shikha Rai ) आपस में टकराने लगे हैं। ग्रेटर कैलाश ( Greater Kailash ) में दोनों पार्टियों के नेताओं के बीच सड़क पर स्थिति मारपीट की नौबत तक पहुंच गई।

दरअसल, ग्रेटर कैलाश क्षेत्र में इन दिनों अतिक्रमण बड़े पैमाने पर जारी है। इस मुद्दे पर विधायक सौरभ भारद्वाज और महिला पार्षद शिखा राय के बीच काफी समय से खींचतान जारी है। ताजा मामला ग्रेटर कैलाश एम-ब्लॉक मार्केट (Greater Kailash M-Block Market ) में अतिक्रमण से जुड़ा है।

आप एमएलए सौरभ भारद्वाज और पार्षद शिखा राय में इस मुद्दे को लेकर मौके पर ही जोरदार बहस ( Heated Discussion ) हो गई। एमएलए ने आरोप लगाया कि पार्षद की शह पर ही पूरे मार्केट में रेहड़ी-पटरी दुकानें लगाई हैं। सरकारी जमीन पर अतिक्रमण किया है। पुलिस भी इस मिलीभगत में शामिल है।

पीएम मोदी पहुंचे लेह, IAF Chief RKS Bhadoria बोले - दुश्मनों से लोहा लेने के लिए तैयार रहें वायुसेना के जांबाज

ग्रेटर कैलाश के एमएलए सौरभ भारद्वाज ( MLA Saurabh Bhardwaj ) का कहना है कि बुधवार को कुछ स्थानीय लोगों ने शिकायत की कि एम ब्लॉक मार्केट में प्रिंस पान भंडार के पास कोई गोलगप्पे और चाट की दुकान लगा रहा है। इसके लिए कई दिन पहले स्टॉल भी बनाए गए थे। लोगों की शिकायतों पर वह मौके पर पहुंचे और रेहड़ी लगाने वाले दुकानदार से पूछताछ की।

इसके बाद उन्होंने एमसीडी में सत्तारूढ़ बीजेपी पार्षदों पर आरोप लगाया कि पूरे दिल्ली में पार्षद और पुलिस रेहड़ी-पटरी ( Street Vendor ) वालों को शह दे रहे हैं। इससे ही सड़कों और मार्केट में अतिक्रमण की भयंकर समस्या है।

तेजस्वी ने भी माना लालू के समय बिहार में था जंगलराज, अब लोगों से इसलिए मांगी माफी

इस बीच लोकल बीजेपी पार्षद शिखा राय भी पहुंच गईं। दोनों के बीच अतिक्रमण ( Encroachment ) को लेकर जोरदार बहस हुई। एमएलए ने उनके सामने ही आरोप लगाया। इस मामले में शिखा राय का कहना है कि कोरोना संक्रमण के दौरान लोगों के रोजगार खत्म हो रहे हैं।

ऐसे में किसी गरीब व्यक्ति ने उनके पास रोजी-रोटी के लिए रेहड़ी लगाने का आग्रह किया, जिस पर उन्होंने मार्केट में कहीं रेहड़ी लगाने की बात कही। लेकिन, इससे यह नहीं कि हर जगह रेहड़ी वाले उनके कहने पर ही दुकानें लगाई हैं।

शिखा राय ने कहा कि किसी को इस पर ऐतराज है तो वह एमसीडी के साथ मिलकर अतिक्रमण को हटवा सकता है। इसमें उन्हें कोई ऐतराज नहीं है।

Dhirendra Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned